बोले बिहार के ​कृषि मंत्री प्रेम कुमार – ले लिया है संकल्प, अब युद्ध जीतना है

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : लोकसभा चुनाव 2019 में 100 दिनों से भी कम का समय बचा हुआ है. ऐसे में सभी पार्टियों ने अपनी कमर कस ली है.इसी को लेकर दिल्ली में बीजेपी ने अपने दो दिवसीय अधिवेशन में पार्टी के सभी नेताओं  में जोश भरा है. आज इस अधिवेशन के खत्म होने के बाद बिहार बीजेपी नेतओं से लाइव सिटीज के संवाददाता के.के.झा ने बात की है. हमारे संवाददाता ने बिहार के ​कृषि मंत्री और बीजेपी विधायक प्रेम कुमार से बात की.

नरेंद्र मोदी का काल स्वर्णिम रहा, जनता फिर चुनेगी प्रधानमंत्री

प्रेम कुमार ने लाइव सिटीज से बात करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी की पांच साल की सरकार देश के लिए स्वर्णिम काल रहा है. देश की आम जनता भी यहीं चाहती है. उन्होंने कहा कि इन दो दिनों के अधिवेशन में उन्होंने विजय संकल्प लिया है जो आगे चल विजय यात्रा में बनेगा और दिल्ली में कमल खिलेगा. बिहार सरकार के मंत्री ने कहा कि युद्ध की घोषणा हो चुकी है और हम लोग सीधे मैदान में जा रहे हैं और पार्टी के लिए काम करेंगे.

महागठबंधन को लेकर बिहार के ​कृषि मंत्री ने कहा कि हमें जनता पर भरोसा है, लोकतंत्र में जनता मालिक है, जनता नरेन्द्र मोदी सरकार को ही सत्ता में लानी चाहती है. उन्होंने कहा कि कोई कितना भी गठबंधन कर ले हमपर कोई फर्क नहीं पड़नेवाला. छेदी पासवान द्वारा दिए गए बयान को लेकर उन्होंने कहा कि ये उनकी व्यक्तिगत राय हो सकती है. इस बारे में मुझे कुछ नहीं पता. पार्टी ने जो फैसला लिया है वो सही है.

गरीब सवर्णों को आरक्षण देकर पं. दीनदयाल का सपना किया पूरा

किसानों को लेकर पूछे गए सवाल पर बिहार के ​कृषि मंत्री ने कहा कि बिहार में कोई किसान नाराज नहीं है. देश में किसानों को उनके हिसाब से केन्द्र सरकार ने एमएसपी देने का काम किया है. उन्होंने कहा कि हम किसानों के लागत का डेढ़गुणा दाम हम उपलब्ध करा रहे हैं. किसान हमसे नाराज नहीं हमारे साथ है.

गरीब सवर्णों को आरक्षण देने की बात को लेकर बीजेपी नेता ने कहा कि पं. दीनदयाल उपाध्याय जी का सपना था कि जो भी व्यक्ति समाज के अंतिम पायदान पर खड़ा है उसका विकास होना चाहिए. सरकार ने इस आरक्षण को लागू कर उनके सपने को साकार किया है. साथ ही उन्होंने बिना नाम लिए राजद पर हमला करते हुए कहा कि उन्होंने अपने राज में बिहार को किस तरह से जाति के नाम पर बांटने का काम किया है यह सबको पता है.

बतातें चलें कि लोकसभाा चुनावों को लेकर बीजेपी ने अपने सभी नेताओं को देश भर से अधिवेशन मेें बुलाया था. इस दौरान बीजेपी की ओर से 2019 चुनावों को लेकर चर्चा हुई. इस दौरान बीजेपी के इस अधिवेशन में कई मामलों को लेकर प्रस्ताव भी पारित किए गए है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*