बोले प्रेम कुमार : किसानों पर सरकार की विशेष नजर, सूबे में नहीं है यूरिया की कोई प्रॉब्लम

मंत्री प्रेम कुमार का फाइल फोटो

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार में यूरिया संकट को लेकर कृषि मंत्री का बड़ा बयान आया है. बिहार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने साफ कहा है कि सूबे में यूरिया व खाद की किल्लत कहीं नहीं है. सूबे के हर जिले में किसानों को खाद आसानी से मिल रहे हैं. बता दें कि जिलों से किसानों की बार-बार शिकायतें आ रही हैं कि यूरिया की कालाबाजारी हो रही है. इसे लेकर किसानों पर आर्थिक बोझ बढ़ गया है. इसी पर कृषि मंत्री प्रेम कुमार मंगलवार को मीडिया से बात कर रहे थे.

कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने कहा कि पूरे बिहार में यूरिया 266 रुपये प्रति बोरा के हिसाब से मिल रहा है. इससे अधिक कहीं कोई पैसा नहीं ले रहा है. उन्होंने यूरिया के कालाबाजारियों को भी चेताया. उन्होंने कहा कि यदि कोई कालाबाजारी कर रहा है तो किसान या आम आदमी साक्ष्य के साथ शिकायत करें. कालाबाजारियों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा कि केंद्र की ओर से यूरिया की पर्याप्त आपूर्ति हो रही है. इसलिए कहीं खाद की प्रॉब्लम नहीं है.

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार हमेशा से किसानों का हितैषी रहा है. किसानों की सुख सुविधा पर वह ख्याल रखती है. इतना ही नहीं, उन्होंने जिलों के संबंधित अधिकारियों को भी निर्देश देते हुए कहा कि सरकार की प्राथमिकता में किसान हैं. उनकी सुविधाओं पर अधिकारी विशेष नजर रखें. उन्होंने कहा कि अधिकारी इस पर भी फोकस करें कि निगरानी समिति की बैठक समय-समय पर होती रहे, ताकि कोई भी खाद दुकानदार इसका कालाबाजारी करने की हिम्मत नहीं करे.

मंत्री प्रेम कुमार को जगी सांसद बनने की लालसा, बिहार में लोकसभा चुनाव लड़ने को लेकर फेंका पासा

हालांकि कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने स्वीकार किया कि उन्हें भी एक-दो जगहों से खाद की कालाबाजारी की शिकायत मिली है. अधिक कीमतों पर खाद बेचे जाने की शिकायत कुछ किसानों ने की है. उन्होंने कहा कि सरकार के स्तर पर भी लगातार इसकी मॉनिटरिंग हो रही है. जिलों में विभागों की ओर से भी इस पर नजर रखी जा रही है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*