ख़त्म हुआ अनिल कुमार का अनशन, गडकरी बोले – 2 महीने में शुरू होगा NH-30 का काम

लाइव सिटीज, सासाराम/पटना : शाहाबाद बचाओ आंदोलन के तहत जनतांत्रिक पार्टी द्वारा आयोजित अनिश्चितकालीन आमरण अनशन आज केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के लिखित आश्‍वासन के बाद समाप्‍त हो गया. केंद्रीय मंत्री के आश्‍वासन के बाद आंदोलन के छठे दिन अनशन स्‍थल गोपालपुर चौक, दिनारा (रोहतास) पर पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अनिल कुमार समेत वरिष्‍ठ उपाध्‍यक्ष सुनिल सिंह, प्रदेश उपाध्‍यक्ष जगनारायण सिंह, प्रदेश महासचिव चक्रवर्ती चौधरी, अजय सिंह यादव, भोजपुर जिलाध्‍यक्ष लालबहादुर महतो, दिनारा प्रखंड अध्‍यक्ष संजय प्रधान, बद्री विशाल, श्रीनिवास चौधरी, अयोध्‍या चौधरी व समाजसेवी रामव्रत भगत महादलित के हाथों पानी पीकर अनशन तोड़ा.

इस दौरान अनिल कुमार ने कहा कि हम नही चाहते हैं कि आमजन व राहगीर हमारे वजह से परेशान हों, इसलिए हम केंद्र सरकार के सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी जी के लिखित पत्र पर अपना अनशन समाप्त कर रहे रहे हैं, जिसमें उन्‍होंने हर हाल में आगामी दो महीने में NH – 30 पर पुनर्निर्माण कार्य शुरू करने का वादा किया है. कुमार ने राज्‍य सरकार और उनके प्रशासनिक पदाधिकारियों में अविश्‍वास जताते हुए कहा कि हम नहीं चाहते कि राज्य सरकार के किसी भ्रष्ट अधिकारी से अपना अनशन तोड़ें, इसलिए शाहाबाद के दलित परिवार के आनेवाले व्‍यक्ति के हाथों हमलोग अनशन तोड़ रहे हैं.

ANIL11
महादलित के हाथों पानी पीकर अनशन तोड़ते अनिल कुमार

उन्‍होंने कहा कि शाहाबाद की जनता अपने हकों के लिए जगरूक हो चुकी है. इस आंदोलन ने उन्‍हें और सचेत कर‍ दिया है, तभी आम जनता NH-30 का पुनर्निर्माण, शाहाबाद में AIIMS की स्थापना, हर घर को रोजगार, शाहाबाद को प्रमंडल का दर्जा और फसल का उचित समर्थन मूल्य की मांग को लेकर हिंसक हो गई और शाहाबाद मे जगह -जगह रोड जाम कर रहे हैं. पुतला तहन के साथ प्रदर्शन कर रहे हैं. अब कल से सरकारी कार्यालयों मे तालाबन्दी की बात कर रहे हैं. मगर हमारा विश्‍वास हिंसा में नहीं है. केंद्रीय मंत्री जी ने हमें आश्‍वासन दिया है, अगर उस पर अमल नहीं हुआ तो जनतांत्रिक पार्टी के कार्यकर्ता आत्‍मदाह करने को भी तैयार हैं.

आंदोलन कर रहे अनिल कुमार की हालत बिगड़ी, 5 दिन से कर रहे आमरण अनशन
आमरण अनशन पर बैठे अनिल कुमार, शाहाबाद के विकास के लिए रखी है 5 मांगें

बता दें कि अनिल कुमार अपने 11 साथियों के साथ पिछले छह दिनों से अपनी विभिन्‍न मांगों को लेकर अनशन पर बैठे थे. इस दौरान पांचवें दिन ही सभी अनशनकारियों की हालत बिगड़ गई थी. बाद में डॉक्‍टरों ने चेक कर बताया कि ब्लड प्रेशर कमी से उन्‍हें चक्‍कर आया. वहीं, अनशनरत अन्‍य 11 की भी हालत खराब हो चुकी है. इस दौरान कुमार ने कहा था कि हम मर जायेंगे. शहीद हो जाएंगे, लेकिन शाहाबाद की खुशियों के साथ समझौता नहीं करेंगे. सरकार को शाहाबाद की जनता की आवाज सुननी ही होगी. ये शाहाबाद के हक की लड़ाई है और इस हक के लिए हम अपनी मांगों पर अडिग हैं और अंतिम सांस तक लड़ेंगे.

गौरतलब है कि अनशन के दौरान पार्टी के प्रदेश अध्‍यक्ष संजय कुमार मंडल, महासचिव अजय चौबे, चक्रवर्ती चौधरी, सचिव मंटू पटेल, आशुतोष पांडेय, भोजपुर जिला अध्‍यक्ष लालबहादुर महतो, बक्‍सर जिलाध्‍यक्ष जयराम कुशवाहा, कैमूर जिलाध्‍यक्ष काशीनाथ चौधरी, महिला प्रकोष्‍ठ की प्रदेश अध्‍यक्ष डॉ स्मिता शर्मा, महासचिव श्रीमती अंजनी शर्मा, उपाध्‍यक्ष कुशावती देवी, राजा पटेल, राजू चौधरी और लल्‍लू पटेल समेत सैकड़ों नेतागण एवं कार्यकर्तागण व जनता उपस्थित रहे.

देखें मानव श्रृंखला की 10 शानदार तस्वीरें…

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*