अशोक गहलोत ने राजद पर दिए बयान पर सफाई दी, कहा- लालू का साथ कभी नहीं भूल सकते

बिहार, पटना, ashok gehlot, अशोक गहलोत, सदाकत आश्रम, शक्ति सिंह गोहिल, Rahul Gandhi, शक्ति सिंह गोहिल, कांग्रेस नेता अशोक गहलोत, लालू प्रसाद यादव, Bihar, बिहार राजनीति, लालू आवास, कांग्रेस, rjd

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार की राजधानी पटना में कांग्रेस के दिग्गज नेता अशोक गहलोत के एक बयान ने सियासी सरगर्मी को और तेज कर दी. लेकिन अब अशोक गहलोत ने बिहार में गठबंधन को लेकर दिए गए अपने बयान पर सफाई दी है. अशोक गहलोत ने राजद पर दिए खुद के बयान पर सफाई दी. उन्होंने कहा, ‘मेरी कहने की भावना अलग थी. राजद और कांग्रेस हमेशा साथ खड़ी रहेगी. लालू जी के साथ को कांग्रेस कभी भूल नहीं सकती है. मैंने जो कहा था उसका मतलब मजबूरी के साथ नहीं था. मेरी भावना कांग्रेस को मजबूत करने की थी. कांग्रेस राज्य में मजबूत होना चाहती है. इससे लालू जी को भी इनकार नहीं होगा.’

राजद के साथ गठबंधन कांग्रेस की मजबूरी

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरुवार को पटना में कहा कि आज राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के साथ गठबंधन कांग्रेस की मजबूरी है. अशोक गहलोत ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से रूबरू होते हुए कहा कि ‘समय की मांग के कारण कांग्रेस को गठबंधन करना पड़ रहा है, नहीं तो किसी जमाने में कांग्रेस अकेले ताकतवर पार्टी थी. आज वह स्थिति नहीं है कि कांग्रेस अकेले दम पर सरकार बना ले.’ हालांकि , उन्होंने बाद में यह भी कहा, “राजद से हमारा गठबंधन है और हमेशा ही रहेगा.”

नीतीश कुमार को एक दिन पछतावा होगा

उन्होंने बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि जदयू को एक दिन पछतावा होगा. उन्होंने कहा कि सबको पता है कि नीतीश कुमार भाजपा के साथ सहज नहीं हैं. गठबंधन तोड़कर नीतीश कुमार ने बड़ा ब्लन्डर किया है. आज वह सांप्रदायिक ताकतों के साथ खड़े हैं. गहलोत ने कार्यकर्ताओं से कहा कि कांग्रेस को अकेले सरकार में लाने की कोशिश होनी चाहिए. कांग्रेस में कई नेताओं की उम्र ज्यादा हो गई है ऐसे में समय रहते कांग्रेस को सत्ता में लाने का संकल्प लें.

इससे पहले वो पटना स्थित लालू के आवास पर उनसे मुलाकात करने भी गये. बंद कमरे में दोनों नेताओं के बीच मुलाकात हुई. गहलोत ने अमित शाह के पटना आगमन को लेकर भी तंज कसा और कहा कि अमित शाह के स्वागत में खर्च होने वाले पैसे को लेकर ईमानदारी का चोला पहनने वाली भाजपा के नेताओं का इसका जवाब देना चाहिए.

यह भी पढ़ें : बीमार लालू का हाल-चाल जानने राबड़ी आवास पहुंचे गहलोत, हाथ पकड़ बोले- जल्द ठीक होंगे

About Razia Ansari 1935 Articles
बोल की लब आज़ाद हैं तेरे, बोल जबां अब तक तेरी है

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*