दरभंगा एम्स को कैबिनेट की मंजूरी पर अश्विनी चौबे ने जताई प्रसन्नता, कहा- स्वस्थ बिहार का सपना होगा साकार

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने बिहार को दूसरा एवं देश को 22वां एम्स प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया है. मंगलवार को प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में दरभंगा एम्स की स्वीकृति प्रदान कर दी गई है. इस पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री ने कहा कि इससे स्वस्थ बिहार, स्वस्थ भारत का सपना साकार होगा.

अश्विनी चौबे ने कहा कि उत्तर बिहार को आजादी के बाद स्वास्थ्य के क्षेत्र में प्रधानमंत्री द्वारा बड़ी सौगात दी गई है. इससे न केवल उत्तर बिहार के मिथिलांचल बल्कि नेपाल एवं बंगाल के सीमावर्ती जिलों के लोगों को भी फायदा मिलेगा. लोगों को बेहतर, किफायती एवं आधुनिक चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध होगी.




केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री ने बताया कि दरभंगा एम्स 750 बेड का होगा. बड़ी संख्या में रोजगार का सृजन होगा. 1264 करोड़ रुपए की लागत से दरभंगा एम्स बनकर तैयार होगा. उन्होंने बताया कि दरभंगा एम्स में एमबीबीएस की अंडर ग्रेजुएट की 100 सीटें, बीएससी नर्सिंग की 60 सीटें निर्धारित की गई हैं. दरभंगा एम्स में 15 से 20 सुपर स्पेशलिटी डिपार्टमेंट होगा. प्रतिदिन 2000 की ओपीडी और प्रति माह 1000 आईपीडी की क्षमता होगी. यहां पीजी, डीएम आदि सुपर स्पेशलिटी कोर्स भी शुरू किए जाएंगे.

उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के अंतर्गत दरभंगा मुजफ्फरपुर भागलपुर पीएमसीएच एवं आईजीआईएमएस पटना में सुपर स्पेशलिटी अस्पतालों का निर्माण कराया जा रहा है. जनता को आधुनिक एवं किफायती चिकित्सीय सुविधा मिले. इसके लिए केंद्र सरकार कटिबद्ध है.