यह बिहार है, कब-कौन ठग ले कहना मुश्किल… बैंककर्मियों ने ही 21 खातों से उड़ा लिये 92 लाख रुपये

लाइव सिटीज, पटना : यह बिहार है. यहां कब-कौन आपको ठग ले कहना मुश्किल है. ताजा मामला नवादा जिले का है. यहां किसी फ्रॉड ने नहीं, बल्कि जिन पर लोगों ने भरोसा किया, उसी ने ग्राहकों को चूना लगा दिया. ठगी के इस मामले में बैंककर्मियों ने ही अंजाम दिया है. घटना सामने आते ही बैंक महकमे में हलचल मच गया है.

बताया जाता है कि 21 खातों से बैंककर्मियों ने लगभग 92 लाख रुपये ठग लिये हैं. मामले में प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है. जांच शुरू हो गई है. हालांकि, इस मामले में अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. जानकारी के अनुसार, वारिसलीगंज बाजार स्थित दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक में गबन का यह मामला सामने आया है. बैंक की पूर्व प्रबंधक मधुलिका रानी, सह प्रबंधक योगेश कुमार एवं बैंककर्मी विशाल कुमार के विरुद्ध 92 लाख 18 हजार रुपये वित्तीय अनियमितता करने की प्राथमिकी वारिसलीगंज थाने में दर्ज कराई गई है.

मिल रही जानकारी के अनुसार, दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक के वर्तमान प्रबंधक विनय कुमार ने गबन की यह प्राथमिकी दर्ज कराई है. उन्होंने थाने में दिए गए आवेदन में कहा है कि 2019 में प्रबंधक सहित दोनों बैंक कर्मी वारिसलीगंज दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक में पोस्टेड थे. तीनों ने साजिश रच कर अकाउंट होल्डरों को झटका दिया है. बैंक कंज्यूमर्स के 21 एफडी अकाउंट के माध्यम से 92 लाख रुपये का गबन किया है. पुलिस मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है.