भागलपुर : लोगों को पीने को मिले साफ़ पानी, डिप्टी मेयर उतरे सड़क पर, एजेंसी को चेताया

भागलपुर : भागलपुर नगर निगम के डिप्टी मेयर राजेश वर्मा सीधे एक्शन के लिए चर्चा में बने रहते हैं. जनता परेशान हो, तो तुरंत कनेक्ट हो जाते हैं. राजेश देश भर के नगर निगमों में सबसे कम उम्र के डिप्टी मेयर हैं. आज शुक्रवार 8 दिसंबर को राजेश वर्मा भागलपुर में लोगों के साथ फिर से एक्शन में दिखे. जनता ने साथ दिया. दोषी एजेंसी को चेतावनी मिली. जब जनता साथ हो, तो काम भी होता ही है. डिप्टी मेयर राजेश वर्मा के निर्देश पर काम तत्काल स्टार्ट कर दिया गया है.

दरअसल, भागलपुर के वार्ड-39 में जलराही रोड, गनी चौक के निवासियों की शिकायत थी कि पिछले दो महीनों से वे बहुत परेशान हैं. परेशानी की वजह गंदा और महकता पानी है. इस कारण पानी पीना बड़ा कष्टकर हो गया है. यह शिकायत सुनते ही स्थानीय लोगों को डिप्टी मेयर राजेश वर्मा ने आश्वस्त किया कि परेशानी अब दूर होगी. मैं आपके पास चल कर आ रहा हूं. फिर ऑनस्पॉट निर्णय करेंगे. साफ़ और गंदा पानी भागलपुर के लोगों को मिले, यह बात बर्दाश्त के काबिल नहीं है.



सचमुच महकता हुआ पानी था, राजेश वर्मा ने सूंघा

तय समय पर राजेश वर्मा जलराही रोड, गनी चौक पहुंच गए. उनके आते ही बड़ी संख्या में स्थानीय लोग जुटे. सभी समुदाय के लोग थे. इसके बाद उन्होंने बोतल में पानी को लेकर सूंघा. सचमुच यह गंदा महकता हुआ पानी था. फिर वाटर सप्लाई के लिए जिम्मेवार एजेंसी को कॉल किया गया. स्पष्ट निर्देश मिला कि 24 घंटे के भीतर काम शुरू करें और लोगों को पीने लायक पानी की आपूर्ति हो. अन्य समस्याओं को भी तत्काल हल किया जाना चाहिए.

हफ्ते भर में काम पूरा होगा

भागलपुर नगर निगम के डिप्टी मेयर राजेश वर्मा के कड़क रुख को देखते हुए जिम्मेवार कंपनी पैन इंडिया के अधिकारी तपन ने भरोसा दिलाया कि काम अभी से शुरू कर रहे हैं. कल 9 दिसंबर से पूर्ण रूप से समस्या के निराकरण के लिए कार्य किया जाएगा. इस हफ्ते में इस कार्य को पूरा कर स्थानीय लोगों की सभी शिकायतें दूर कर दी जायेंगी.