बिहारः बढ़ सकती हैं बाबा रामदेव की मुश्किलें, पटना के पत्रकार नगर थाने में बाबा पर मुकदमा दर्ज करने के लिए IMA ने दिया आवेदन

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: योग गुरु बाबा राम देव के खिलाफ बिहार में पहला आवेदन पटना के पत्रकार नगर थाने में दिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। थानेदार का कहना है कि जांच के बाद मामला दर्ज किया जाएगा। दूसरी तरफ IMA बिहार के 50 अलग-अलग थानों में मुकदमा दर्ज कराने की तैयारी कर रहा है।

IMA बिहार राज्य के सेक्रेटरी और सहज सर्जरी कंकड़बाग के डॉ. सुनील कुमार ने पत्रकार नगर थाना की पुलिस को दिए गए आवेदन में रामकृष्ण यादव उर्फ बाबा रामदेव, पिता राम निवास यादव पता-पतंजलि योगपीठ ट्रस्ट, महर्षि दयानन्द ग्राम, दिल्ली हाइवे, बहादरावाद के निकट, हरिद्वार के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। आवेदन में एपिडेमिक डिजीज एक्ट 1897 की धारा 3, बिहार एपिडेमिक डिजीज कोविड 19 ( रेगुलेशन ) 2020, डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट 2005 एवं IPC 1860 की धाराएं 124 ए 153 / 186 / 188 / 269 / 270 / 3361 4201 499 / 500 / 505 / 511 एवं कानून के अन्य प्रावधानों के अंतर्गत प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की है।

बता दें कि आईएमए ने वीडियो के आधार पर कहा था कि रामदेव ने दावा किया है कि एलोपैथी मूर्खतापूर्ण विज्ञान है और भारत के औषधि महानियंत्रक द्वारा कोविड-19 के इलाज के लिए मंजूर की गई रेमडेसिविर आदि अन्य दवाएं कोरोना के इलाज में असफल रही हैं।

इधर, इस बयान के बाद ही आईएमए कार्रवाई की मांग कर रहा है। पहले भी कई जगहों पर मामला दर्ज किया गया है। आईएमए ने यह भी आरोप लगाया था कि रामदेव स्थिति का फायदा उठाने और व्यापक पैमाने पर लोगों के बीच डर तथा आक्रोश पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं। आईएमए ने कहा था कि वह ऐसा इसलिए कर रहे हैं ताकि वह अपनी दवाएं बेच सकें। हालांकि विवादों में फंसता देख रामदेव बाबा ने अपना पक्ष भी रखा था।