बिहार के इस सोनापट्टी में खपता है देश भर का सोना, काजोल के घर से चोरी ज्वेलरी भी आई थी

लाइव सिटीज, पटना : बिहार में एक ऐसा ज्वेलरी मार्केट है जो अपने गैरकानूनी धंधों के लिए देश भर में बदनाम है. यहां देश के कई राज्यों से चोरी की गई ज्वेलरी, सोना-चांदी आदि को खपा दिया जाता है. इस एरिया में बॉलीवुड एक्ट्रेस काजोल के घर से चोरी हुई गोल्ड ज्वेलरी तक को खपा दिया गया है. पुलिसिया जांच में यह बात साबित हुई है कि एक पूरा गैंग है जो बड़े-बड़े सेलिब्रिटीज के घरों में चोरी करवाता है. यह गैंग उनके घरों में काम करने वाले मेड और सर्वेन्ट्स की मदद से इस काम को अंजाम देता है.

हाल में सामने आई रिपोर्ट्स की मानें तो बिहार का यह जिला भागलपुर है और वह बदनाम ज्वेलरी मार्केट यहां का सोनापट्टी है. इसी सोनापट्टी को कई सालों से तस्करी और चोरी का आभूषण खपाने की सुरक्षित मंडी माना जाता रहा है. मालूम हो कि बॉलीवुड एक्ट्रेस काजोल के घर से 1998-99 में चोरी हुआ सोना भी यहीं खपाया गया था. उनके घर से सोना व नकदी चोरी की घटना को बांका जिला के अमरपुर निवासी पिंटू ने अंजाम दिया था. वह काजोल के घर बतौर नौकर काम करता था. इस मामले में काजोल ने मुंबई के जुहू में प्राथमिकी दर्ज कराई थी. जिसके बाद मुम्बई पुलिस चोर गिरोह का सुराग ढूंढते हुए भागलपुर आई थी.



काजोल (फाइल फोटो)
पिंटू की मदद से हुआ था खुलासा

तब मुंबई पुलिस ने भागलपुर के तत्कालीन एसपी एएस राजन की मदद से सोनापट्टी में छापेमारी भी की थी. कई आरोपितों को हिरासत में और कई को गिरफ्तार किया गया था. हिरासत में लिए लोगों ने ही पिंटू का नाम बताया था. बाद में पूछताछ में पिंटू ने अपना गुनाह कबूल लिया था.

इस जांच में मुम्बई पुलिस को भागलपुर के ऐसे गिरोह के बारे में जानकारी मिली जो बड़े-बड़े लोगों और सेलिब्रिटियों के घरों में काम करने वालों को अपने साथ मिलाकर उनके घरों में हाथ साफ करवाते हैं. पुलिस की दबिश के कारण गिरोह के कई सदस्यों ने अपना ठिकाना बदल लिया था. कुछ सदस्य चोरी का सोना खपाने के लिए भागलपुर पहुंच गए थे.

प्रतीकात्मक फोटो
कई राज्यों का खपता है सोना

पता चला कि भागलपुर के सोनापट्टी मंडी में मुम्बई, दिल्ली, कोलकाता, उड़ीसा, उत्तरप्रदेश, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, बेंगलुरु, पुणो, चंडीगढ़, पंजाब समेत एक दर्जन राज्यों में सक्रिय चोर और लुटेरे चोरी और लूट का सोना और अन्य जेवरात खपाने हैं. इस मामले में पिछले कई सालों में दूसरे राज्यों की पुलिस सोनापट्टी में छापेमारी कर दर्जनों दागी व्यवसायियों और कारीगरों को गिरफ्तार कर चुकी है.

आई थी दिल्ली पुलिस

बीते सोमवार को ही चोरी का सोना खरीदने वाले और सोने की बरादमगी को लेकर दिल्ली क्राइम ब्रांच की पांच सदस्यीय टीम कोतवाली थाना पहुंची थी. एसआई नागेंद्र कुमार के नेतृत्व में पहुंची दिल्ली पुलिस कोलकाता और कहलगांव के उन दो चोरों को साथ लेकर आयी थी, जिन्होंने दिल्ली में सोना चोरी कर सोनापट्टी के दुकानदार को बेचा. दिल्ली में घरों में काम करने के नाम पर घुसकर महंगे आभूषण चोरी करने वालों का एक गिरोह सक्रिय है, जिनमें ज्यादातर लोग बिहार के हैं. दिल्ली में ऐसे ही एक गैंग का पुलिस ने इसी हफ्ते भंडाफोड़ भी किया था.

तैयार रहिए, नए साल पर बिहार पुलिस में आ रही है 16000 वैकेंसी
नए साल में, 1 जनवरी से.. मोदी सरकार भारतवासियों को दे रही है ये 3 उपहार, आप भी उठाएं फायदा
इन स्मार्टफोन्स ने 2017 में जीता लोगों का दिल, अब भी है लिस्ट में