मैट्रिक कंपार्टमेंटल परीक्षा फॉर्म भरने का बिहार बोर्ड ने बढ़ाया समय, अब 7 जुलाई तक करें अप्लाई

Bihar Board Result 2018, Bihar Board 12th Results 2018, Bseb 12th Result 2018, बिहार बोर्ड, बारहवीं के नतीजे, इंटर के रिजल्ट, बिहार हिंदी न्यूज़, Bihar Hindi News, Bihar Board

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार बोर्ड ने बिना जुर्माना के मैट्रिक कंपार्टमेंटल परीक्षा के फॉर्म भरने का समय बढ़ा दिया है. बिहार बोर्ड ने इसके लिए तिथि में दो दिनों का विस्तार किया है. अब आप मैट्रिक कंपार्टमेंट परीक्षा का फॉर्म 7 जुलाई तक बिना आर्थिक दंड के आॅनलाइन भर सकेंगे. इस संबंध में बिहार बोर्ड ने गुरुवार को इसकी अधिसूचना भी जारी कर दी. इससे स्टूडेंट्स और स्कूलों को बड़ी राहत मिली है.

बता दें कि पहले गुरुवार तक ही फॉर्म भरने का समय दिया गया था. इसके बाद आर्थिक दंड के साथ फॉर्म भरा जाता. लेकिन गुरुवार को दिन भर बिहार बोर्ड के पोर्टल में गड़बड़ी रही. इसके कारण फॉर्म नहीं भरा जा सका. इसे लेकर बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ ने बिना दंड शुल्क के मैट्रिक कंपार्टमेंटल परीक्षा के फॉर्म भरने की तिथि को विस्तार करने की मांग बिहार विद्यालय परीक्षा समिति से की थी.

इस संबंध में बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के मीडिया प्रभारी सह प्रवक्ता अभिषेक कुमार ने कहा कि राज्य के अधिकतर विद्यालयों से सूचना प्राप्त हुई कि बिना विलंब शुल्क के कपार्टमेंटल फॉर्म भरने की अंतिम तिथि गुरुवार (पांच जुलाई) थी, लेकिन विद्यालय के प्रधान व शिक्षकों द्वारा ऑनलाइन फॉर्म भरने के उपरांत शुल्क जमा करने के लिए चालान जेनरेट नहीं हो पाया और उनके द्वारा परीक्षा समिति के हेल्प लाइन नंबर पर संपर्क करने का काफी प्रयास गया, लेकिन न ही किसी ने फोन उठाया और न ही संपर्क हो सका.

संघ ने बिहार विद्यालय परीक्षा समिति से अनुरोध किया कि बेवसाइट व तकनीकी खामियों को देखते हुए बिना दंड शुल्क के मैट्रिक कंपार्टमेंटल परीक्षा के फॉर्म भरने की तिथि बढ़ायी जाए. इधर गुरुवार को बिहार बोर्ड ने स्कूलों को बड़ी राहत देते हुए बिना आर्थिक दंड शुल्क के फॉर्म भरने के लिए दो दिनों का और समय दिया है. बिहार बोर्ड ने गुरुवार को अधिसूचना करते हुए बिना दंड शुल्क के 7 जुलाई तक का समय दिया है. बोर्ड की ओर से कहा गया है कि बिहार बोर्ड के पोर्टल ई चालान को भी अपलोड कर दिया गया है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*