रावण वध से पहले गांधी मैदान में CM ने खुद किया सिक्यूरिटी चेक, DM-SSP भी घूमे

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : राजधानी पटना में दशहरा के मौके पर होने वाले रावण वध की तैयारियां जोरों पर है. शहर के ऐतिहासिक गांधी मैदान में शुक्रवार 19 अक्टूबर को होने वाले इस कार्यक्रम के लिए आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ ही पटना के जिलाधिकारी और सीनियर एसपी ने भी जायजा लिया. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस दौरान कार से पूरे मैदान का निरीक्षण किया और कई जरूरी निर्देश मौजूद अधिकारियों को दिए. इसके बाद पटना के डीएम और एसएसपी ने गांधी मैदान में रावण वध कार्यक्रम को लेकर माॅक ड्रिल भी किया.

माॅकड्रील के क्रम में जिलाधिकारी ने पाया कि गांधी मैदान में लोगों को सूचना का आदान-प्रदान करने तथा सहायता पहुंचाने हेतु क्रमशः गेट संख्या-5, 7, 10 एवं ध्वजारोहण स्थल के पास हेल्प डेस्क की व्यवस्था नजारत उप समाहर्त्ता द्वारा करा दिया गया है. मैदान में 10 वाच टाॅवर लगा हुआ है. उन्होंने निर्देश दिया कि वाच टाॅवर पर एक विडियोग्राफर, एक पुलिसकर्मी, दूरबीन एवं ड्रेगन लाईट के साथ मौजूद रहेंगे. नीचे पुलिस पदाधिकारी पुलिस बल के साथ मौजूद रहेंगे.

जिलाधिकारी ने रिहर्सल के क्रम में पाया कि महाप्रबंधक पेसू के द्वारा निर्देशानुसार गांधी मैदान के भीतर और बाहर पूर्ण लाईट की व्यवस्था कर दी गई है. इस क्रम में मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी, पटना नगर निगम को निर्देश दिया कि गांधी मैदान के भीतर किसी तरह का गिट्टी या पत्थर और गंदगी न रहे. उन्होंने हिदायत की कि रावण वध के दिन गांधी मैदान के भीतर जानवरों का प्रवेश न हो.

जिलाधिकारी ने पाया कि गांधी मैदान में लाईटिंग की व्यवस्था में पर्याप्त व्यवस्था नहीं है. उन्होंने कार्यपालक अभियंता बुडको को निर्देश दिया कि गांधी मैदान में पर्याप्त मात्रा में लाईटिंग की व्यवस्था हर हालत में आज रात ही हो जाय. उन्होंने कार्यपालक अभियंता भवन निर्माण को निर्देश दिया कि गांधी मैदान स्थित सभी स्लैब को स्मूथ करें, ताकि दर्शकों को किसी तरह की कठिनाई न हो. उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि गांधी मैदान स्थित टूटे हुए पोल को हटा दें तथा उसके साथ ठोकर को भी हटा दें. गांधी मैदान के चारों ओर न तो पार्किंग होगी और न ही वेंडर रहेंगे.

जिलाधिकारी ने बताया कि इस वर्ष गांधी मैदान के सभी गेटों पर फ्लैक्स संस्थापित किया गया है. सभी गेटों पर यह दर्शाया गया है कि सभी गेट खुला हुआ है, गेट नं – 1 को छोड़कर सभी गेटों से प्रवेश एवं निकास किया जा सकता है. सभी गेटों पर फ्लैक्स के साथ महत्वूर्ण नं को दर्शाया गया है. उन्होंने कहा कि रावण वध के अवसर पर विधि-व्यवस्था संधारण एवं नागरिकों, महिलाओं एवं बच्चों की सुविधाओं को ध्यान में रखा गया है.

वरीय पुलिस अधीक्षक ने माॅकड्रील के क्रम में सभी पुलिस पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि पुलिस पदाधिकारी यह सुनिश्चित कर लें कि गांधी मैदान के भीतर 60 सीसीटीवी कार्यरत है. जब तक भीड़ चली नहीं जाती है तब तक पुलिस पदाधिकारी अपने प्रतिनियुक्त स्थल पर बने रहेंगे. गांधी मैदान के सभी गेटों पर एक दिन पहले ही फ्रिसकिंग करा लें. अस्थायी थाना में थाना प्रभारी नियमित रूप से रहें.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*