तेजस्वी के ट्वीट पर जदयू ने समझा दिया बगुला और कौए का अंतर, पिता जेल में बेटा कोर्ट में…

lalu-tejaswi

लाइव सिटीज, पटना: बिहार के खगड़िया जिले में पुलिस और अपराधियों के बीच हुई मुठभेड़ में पसराहा के थाना प्रभारी आशीष कुमार सिंह की मौत पर अब खूब राजनीति हो रही है. एक ओर जहां बिहार की कानून व्यवस्था सवालों के घेरे में है. वहीं, आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो गया है. विपक्ष लगातार सरकार पर हमलावर है. तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला था. तेजस्वी के ट्वीट के बाद जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने उनपर बड़ा हमला बोला है.

क्या कहा था तेजस्वी यादव ने

दरअसल, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर 27 साल से एक राजनीतिक कार्यकर्ता की हत्या का केस चल रहा है. जो मुख्यमंत्री खुद हत्या आरोपी है उसे दूसरे हत्यारों से तो सहानुभूति होगी ही. एक हत्या आरोपी मुख्यमंत्री दूसरों के साथ कैसे न्याय करेगा? उन्होंने कहा कि साहब, जनता बगुले और कौअे का अंतर समझती है.

जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार का बयान

इस ट्वीट के जबाव में जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने तेजस्वी पर तीखा हमला बोला. जेडीयू प्रवक्ता ने कहा कि बउआ तेजस्वी जी, आप तो इन दिनों कोर्ट-कोर्ट,वकील के द्वार-द्वार घूम रहे हैं. कानून की कुछ जानकारी तो हो गई होगी. कोर्ट जब आरोपमुक्त कर दे न, तो वह व्यक्ति दोषी नहीं होता. आपके कहने से कोई आरोपी नहीं बन जाता. जो दोषी होगा, उसे सजा मिलती है. जैसे आपके पिता जी को मिली, ज्यादा उतावला न हो.

बगुला व कौआ में तो अंतर होता ही है

एक अन्य ट्वीट में नीरज कुमार ने कहा कि बउआ, आप कोर्ट से ऊपर नहीं न है. जिस पर आप आरोप लगा रहे हैं. उसे पुलिस ने आरोपमुक्त किया, कोर्ट ने स्वीकार किया. जिनपर पुलिस ने आरोप सत्य पाया, उसे आपके पिता मंत्रिमंडल में रखे थे. उस वक्त सीएम भी आपके पिता ही थे. बउआ, बगुला व कौआ में तो अंतर होता ही है, यही कारण है पिता जेल में हैं और पुत्र कोर्ट का चक्कर काट रहे हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*