‘किसानों का अनाज रखने के लिये गोदाम नहीं, लेकिन बालू रखने के लिए तैयार’

तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

पटना : बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सरकार की बालू नीति को लेकर हमला बोला है. तेजस्वी ने तंज करते हुए सवाल किया है कि बिहार में नीतीश सरकार के पास किसानों का अनाज रखने के लिये गोदाम नहीं है लेकिन बालू रखने के लिए तैयार है. उन्होंने कहा कि अभी आप बेलगाम हैं. जनता लगाम कसेगी. इंतजार कीजिये. तेजस्वी ने ये बातें रविवार रात ट्वीट के माध्यम से कही.

तेजस्वी यादव ने ट्वीट के साथ सोमवार को होने वाले राजद के विरोध मार्च का पोस्टर भी शेयर किया. मालूम हो कि बिहार में मुख्य विपक्षी दल राजद ने सोमवार को सरकार की रेत खनन नीति के खिलाफ विरोध मार्च निकालने का निर्णय लिया है. पार्टी का कहना है कि इस नीति की वजह से रेत और कंक्रीट का संकट हो गया है और लाखों मजदूर बेरोजगार हो गये हैं.



शनिवार को ही पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने इसकी जानकारी देते हुए कहा था कि नीतीश सरकार की गलत खनन नीति की वजह से रेत और कंक्रीट की कमी का संकट खड़ा हो गया है जिसकी वजह से सरकारी परियोजनाओं समेत निर्माण क्षेत्र का काम बुरी तरह प्रभावित हो रहा है. यह मार्च राजधानी पटना में पार्टी मुख्यालय से शुरू होकर करगिल चौक (गांधी मैदान) तक होगा.

गौरतलब है कि जुलाई में सत्ता में आने के बाद जदयू-भाजपा गठबंधन सरकार अवैध रेत खनन रोकने और राज्य में इसके व्यापार के नियमन के लिये नयी खनन नीति लेकर आयी थी. इसके अंतर्गत सरकार का खनन विभाग अब बालू खनन करने वालों से सीधा खरीद करेगा और फिर उन्हें आम जनता को मुहैया कराया जायेगा.