कोरोना के बढ़ते मामले को लेकर पटना एम्स पहुंचे बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, की समीक्षा बैठक

लाइव सिटीज, फुलवारीशरीफ (अजीत) : पटना सहित पूरे बिहार में कोरोना की तीसरी लहर में तेजी को देख स्वास्थ्य विभाग अलर्ट मोड में है. पल-पल की जानकारी ले रहा है. जिलों से भी रिपोर्ट ली जा रही है. इसी कड़ी में बिहार के स्वा​स्थ्य मंत्री मंगल पांडेय शनिवार को पटना एम्स पहुंचे और अधिकारियों व डॉक्टरों के साथ समीक्षा बैठक कर कई आवश्यक निर्देश दिए.

पटना एम्स में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के साथ डब्ल्यूएचओ समेत बिहार राज्य स्वास्थ्य समिति की टीम भी मौजूद रही. कोरोना के बढ़ते मामले से किस तरीके से निपटा जाए, इस पर विस्तार से चर्चा हुई. कोरोना मरीजों को इलाज में हर संभव सुविधा उपलब्ध कराने पर मंथन किया गया. स्वास्थ्य मंत्री ने एम्स में कोरोना मरीजों को दी जा रही सुविधाओं का जायजा लिया और कई दिशा-निर्देश भी दिए.

पटना एम्स के नोडल कोरोना अधिकारी डॉक्टर संजीव कुमार ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे एम्स में करीब 2 घंटे तक रहे और कोरोना मामले को लेकर समीक्षा बैठक की. उनके साथ में बिहार राज्य स्वास्थ्य समिति और डब्ल्यूएचओ बिहार हेड सहित स्वास्थ्य विभाग की पूरी टीम मौजूद थी.

बता दें कि बिहार में कोरोना की तीसरी लहर ने अपनी चपेट में ले लिया है. कल इस सीजन में सर्वाधिक संक्रमित पाए गए हैं. कल शनिवार को स्वास्थ्य विभाग के आंकड़े के अनुसार, लगभग पांच हजार मरीज मिले हैं, जबकि कुल एक्टिव सं​क्रमितों की संख्या 7 हजार से अधिक हो गयी है.

गौरतलब है कि कोविड प्रोटोकाॅल का पालन कराने के लिए कल ही सार्वजनिक परिवहन के वाहनों में विशेष जांच अभियान चलाया गया. जिलों में बस स्टैंड एवं आटो स्टैंड से सार्वजनिक परिवहन के वाहनों के खुलने से पहले सभी यात्रियों का फेस मास्क लगाना एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना सुनिश्चित किया गया. इस दौरान कुल 565 वाहनों की जांच की गई, जिसमें नियमों का उल्लंघन करने वाले 223 विभिन्न वाहन चालकों पर जुर्माना लगाया गया एवं 17 वाहनों को जब्त किया गया. यह अभियान सभी जिलों में परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल के निर्देश पर चलाया गया.