अब बस एक क्लिक में जुड़िये बिहार से, जानिए इसकी सभ्यता, संस्कृति और अनोखी पहचान

bihar hindi news, Brand Bihar, Nitish Kumar, बिहार ब्रांडिंग, नीतीश कुमार, बिहार खानपान, बिहार की संस्कृति

लाइव सिटिज डेस्क : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने देश और दुनिया को बिहार की संस्कृति, कला, सिनेमा और खानपान आदि के बारे में जानकारी देने वाले एक पोर्टल की शुरुआत की. इससे राज्य की ब्रांडिंग होगी. ‘ब्रांडिंग बिहार डॉट कॉम’ का उद्घाटन करते हुए कहा कि बिहार के जो लोग देश के बाहर रह रहे हैं, राज्य के बारे में उनकी जिज्ञासा बनी रहती है. इस पोर्टल से लोगों की बिहार के बारे रुचि बढ़ेगी और वे अपने इतिहास को जान सकेंगे. इससे बिहार की ब्रांडिंग होगी.

बता दें कि एक निजी संस्थान ने इस वेबसाइट को तैयार किया है. इसमें बिहार से जुड़ी कला, संगीत, मीडिया, सिनेमा, साहित्य, पहनावा, खान-पान, वाइल्ड लाइफ, पुरातात्विक स्थलों एवं यहां की विभूतियों की जानकारी है. इस वेबसाइट को बनाने वाले एसएयूवी कम्युनिकेशन के निदेशक उदय सहाय ने कहा कि ‘ब्रांडिंग बिहार डॉट कॉम’ पर बिहार के कला-संस्कृति, संगीत, मीडिया, सिनेमा, साहित्य, वेशभूषा, खान-पान, वन्यजीवन, यहां से जुड़े व्यक्तित्वों, पुरातात्विक स्थलों एवं कुछ आलेख हैं.

मुख्यमंत्री ने अपने सुझाव में कहा कि बिहार का इतिहास गौरवशाली है, इससे जुड़े हुए पुरातात्विक स्थलों के बारे में और विस्तार से बताने की जरूरत है ताकि नयी पीढ़ी इसके बारे में जान सके और आकर्षित हो सके. चंपारण सत्याग्रह के दौरान दिखाये गये गांधीजी के चित्र के बारे में मुख्यमंत्री ने कहा कि यह असली नहीं है. इसकी सही तस्वीर आप यहां के अधिकारियों के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में काफी कुछ किया जा रहा है. बोधगया, राजगीर, वैशाली, नालंदा और तेल्हाड़ा के पुरातात्विक स्थलों पर काम किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि राजगीर में जू सफारी, नेचर सफारी, घोड़ा कटोरा पर्वत लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र बनेगा. राजगीर में सबसे पुराना पत्थर निर्मित सायक्लोपियन बॉल है। यहां वेणु वन का विस्तार किया जा रहा है. यहां स्थित झील में भगवान बुद्ध की पूरे तरह पत्थर की बनी मूर्ति लगायी जा रही है.

सीएम नीतीश ने कहा कि बोधगया को भी विकसित किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि वैशाली में राजा का विशालगढ़ किला अद्भुत है. उन्होंने कहा कि बिहार में हाल ही में अंतरर्राष्ट्रीय स्तर का बिहार संग्रहालय बना है और पहले से निर्मित पटना संग्रहालय इससे जुड़ा हुआ है. पटना संग्रहालय का पुनरुद्धार किया जा रहा है और उसमें पुरातात्विक सामग्रियों के उचित रख-रखाव की व्यवस्था की जायेगी.

बिहार के बारे में ये जानने को मिलेगा
  • बिहार से जुड़ी कला, संगीत, मीडिया, सिनेमा, साहित्य, पहनावा, खान-पान, वाइल्ड लाइफ, पुरातात्विक स्थलों एवं यहां की विभूतियां
  • चंपारण सत्याग्रह से संबंधित गांधी की तस्वीर
  • चंपारण का मिर्चइया चूड़ा
  • भागलपुर का कतरनी चावल
  • राजगीर में जू सफारी, नेचर सफारी, घोड़ा कटोरा
  • राजगीर में सबसे पुराने पत्थर से निर्मित साइक्लोपियन वॉल
  • वेणु वन, बोधगया
  • गया में हिंदू पिंडदान
  • बिहार में बौद्ध भिक्षु बुद्ध से जुड़े स्थल
  • लखीसराय के क्रिमिला में लाल पहाड़ी
  • वैशाली में विशालगढ़ किला
  • वाल्मीकिनगर टाइगर रीजन क्षेत्र
  • ललभितिया
  • तारामाता के मंदिर
  • मधुबनी में बलराजगढ़
  • अंतरराष्ट्रीय स्तर का बिहार संग्रहालय
  • पहले से निर्मित पटना संग्रहालय
  • बिहार के सभी क्षेत्र चाहे रोहतास हो
  • चंपारण हो या मगध, सब ऐतिहासिक धरोहरों से भरे पड़े हैं

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*