गुजरात में बिहारियों पर हमले के खिलाफ गुस्से में भाकपा माले, सड़क पर किया प्रतिवाद मार्च

लाइव सिटीज, पटना (देवांशु प्रभात): गुजरात में बिहार के लोगों पर हो रहे हमले के विरोध में शुक्रवार को भाकपा माले ने एक प्रतिवाद मार्च निकाला. जिसका नेतृत्व पार्टी महासचिव कॉमरेड दीपंकर भट्टाचार्य ने किया. कार्यकर्ता हाथ में झंडा बैनर लिए नारे लगाते हुए पटना की सड़कों पर निकल पड़े. भाकपा माले के कार्यकताओं ने कहा कि बिहारियों पर गुजरात में अत्याचार हो रहे हैं, लेकिन मोदी व नीतीश सरकार चुप्पी साधे हुए हैं. यह मार्च भगत सिंह चौक (गांधी मैदान) से भाकपा-माले, खेग्रामस और एक्टू के बैनर से निकाला गया.

भाकपा माले का प्रतिवाद मार्च

बता दें कि गुजरात में बिहारी मजदूरों पर हमले और पलायन के खिलाफ आज भाकपा माले और एक्टू ने सड़क पर प्रतिवाद मार्च किया. उन्होंने सरकार पर निशाना साधा और कहा कि गुजरात में बिहारी मजदूरों सहित तमाम हिंदी भाषी लोगों पर लगातार हमले जारी हैं और उन्हें गुजरात से खदेड़ा जा रहा है. यह न सिर्फ बिहारी मजदूरों की रोजी-रोटी पर हमला है, बल्कि यह उनका घोर अपमान भी है.

60 हजार लोग गुजरात छोड़ चुके हैं

वक्ताओं ने कहा कि- हम सभी जानते हैं कि गुजरात में बिहारी मजदूरों सहित तमाम हिंदी भाषी लोगों पर लगातार हमले जारी हैं और उन्हें गुजरात से खदेड़ा जा रहा है. अभी तक 60 हजार लोग गुजरात छोड़ चुके हैं और पलायन लगातार जारी है. यह न सिर्फ बिहारी मजदूरों की रोजी-रोटी पर हमला है, बल्कि यह उनका घोर अपमान भी है.

कल तक उन्हें महाराष्ट्र में अपमान झेलना पड़ता था, अब यह गुजरात में हो रहा है. देश के नागरिकों को देश में कहीं भी रोजी-रोटी के लिए जाने की आजादी है. लेकिन आज देश के नागरिकों को देश के ही भीतर खदेड़ा जा रहा है. धर्म-भाषा-क्षेत्रीयता के आधार पर राजनीति देश की एकता के लिए खतरनाक है. भाजपा आज यही राजनीति कर देश को तोड़ने की कोशिश कर रही है.

RERA Approved वीआईपी रेजीडेंसी हो चला तैयार, अभी बुकिंग पर Alto Car फ्री

About Razia Ansari 1935 Articles
बोल की लब आज़ाद हैं तेरे, बोल जबां अब तक तेरी है

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*