‘950 करोड़ का चारा खा गए, लाखों का अलकतरा गटक गए, यही है जंगलराज की उपलब्धि’

sanjay singh, jdu, lalu prasad yadav, fodder scam, Bihar politics , Patna politics , Bihar top , RJD leader , Tejaswi yadav , Amit shah , CM nitish kumar , Breakfast dinner , तेजस्वी यादव , नीतीश कुमार , अमित शाह, बिहार, भ्रष्टाचार, चूहे, शराब

लाइव सिटीज डेस्क : नीतीश सरकार में भ्रष्टाचार पर किये गए तेजस्वी यादव के ट्वीट तंज पर जदयू में खलबली मच गई है. जदयू के प्रवक्ता संजय सिंह ने पलटवार किया है. संजय सिंह ने लालू सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोपों की झड़ी लगा दी है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि 950 करोड़ का चारा खा गए, लाखों का अलकतरा गटक गए, प्रतिभाओं का हक़ मारकर मेधा घोटाला किया. आपके माता-पिता के जंगलराज की उपलब्धि भ्रष्टाचार और नरसंहार ही रही है ना? आपके के झूठ से परेशान बिहार की जनता ने पूरे परिवार का सत्ता से पलायन करा दिया. इसके लिए भी नीतीश जी को दोषी ठहराएँगे?

संजय सिंह ने अपना ट्वीट तेजस्वी यदा के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिखा है.

बता दें कि आज सुबह ही बिहार के नेता प्रतिपक्ष और पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने एक मजेदार कार्टून पोस्ट करते हुए बिहार में भ्रष्टाचार और चूहों पर लग रहे आरोप पर उनकी व्यथा दिखाई है. उन्होंने लिखा है कि 1000 करोड़ का बांध टूटे, करोड़ों की ज़ब्त 9 लाख लीटर शराब ग़ायब हों, करोड़ों की दवाई गायब हों, गरीबों का राशन गायब हों. नीतीश जी के कुशासनी राज में भ्रष्टाचार के दोषी चूहे ही होंगे. चूहे इनके झूठे आरोपों से परेशान हो पलायन कर कह रहे है अब नीतीश जी किसे दोषी ठहराएँगे?

बता दें कि बिहार में चूहे तब हाईलाइट हुए थे जब गोदाम में रखी कई लीटर शराब गायब हो गई थी. और इसका इल्जाम लगा था चूहों पर. उसके बाद चूहों पर इल्जाम लगा था उन्होंने ही बिहार में बाढ़ लाई थी. ऐसा खुद बिहार के जल संसाधन मंत्री ललन सिंह ने कहा था. उन्होंने कहा कि बिहार में आयी बाढ़ का एक मुख्य कारण पता चला है, नेपाल की बारिश और बिहार की भौगोलिक स्थिति या फिर सरकार की कम तैयारी इसकी वजह नहीं, इसकी मुख्य वजह हैं,चूहे. उन्होंने कहा कि 19 जिलों की 1 करोड़ 71 लाख की आबादी जिस बाढ़ से प्रभावित हुई है, उसमें सबसे बड़ी भूमिका चूहों की रही है. नदी के तटबंधों को तो इन्होंने ही तोड़ दिया है.

यह भी पढ़ें : नीतीश के झूठे आरोपों से बिहार के चूहे कर रहे हैं पलायन, भ्रष्टाचार पर तेजस्वी का गंभीर आरोप

About Razia Ansari 1830 Articles
बोल की लब आज़ाद हैं तेरे, बोल जबां अब तक तेरी है

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*