कर्नाटक के सियासी ड्रामे पर बोले शत्रुघ्न सिन्हा, यह जुगाड़ और दबाव की पॉलिटिक्स है

Shatrughan sinha, big attack, pm narendra modi, rahul gandhi, कर्नाटक चुनाव, कर्नाटक चुनाव परिणाम, कर्नाटक चुनाव 2018, Karnataka vidhan sabha election result, कर्नाटक चुनाव के नतीजे , कर्नाटक विधानसभा चुनाव परिणाम 2018 , karnataka election results, bjp ,congress, कर्नाटक चुनाव परिणाम, lingayat , vokkaliga, Siddar

लाइव सिटीज डेस्क : कर्नाटक चुनाव में भाजपा के सरकार बनाने को लेकर विपक्षी पार्टियों के बयान आने शुरू हो गए हैं. बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव लगातार बीजेपी पर हमलावार हैं. इधर बीजेपी से नाराज चल रहे भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा भी इस इसमें कूद पड़े हैं. सांसद और बीजेपी से निलंबित नेता कीर्ति आजाद के छोटे बेटे की रिसेप्शन पार्टी में शामिल होने के लिए दरभंगा पहुंचे बीजेपी सांसद और बॉलीवुड के सिने स्टार शत्रुघ्न सिन्हा ने कर्नाटक में चल रहे सियासी घमासान पर बीजेपी की चुटकी ली है.

लोकतंत्र की तथाकथित हत्या है

शत्रुघ्न सिन्हा से मीडिया ने जब कर्नाटक के मामले पर उनसे सावाल किया तो उन्होंने कहा ‘खामोश’, अभी कर्नाटक में सरकार बनाने के लिए जुगाड़ और दबाव की पॉलिटिक्स चल रही है. शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि यह लोकतंत्र के लिए कहीं से भी उचित नहीं है. उन्होंने बीजेपी का नाम लिए बिना निशाना साधते हुए कहा कि लोकतंत्र की तथाकथित हत्या करते हुए सरकार बनाना कभी भी हास्यास्पद और फजीहत भरा ही होता है.

बिहार में बड़ा सामाजिक और राजनीतिक क्रांति होगा

पार्टी से बागी तेवर अपना चुके शत्रुघ्न सिन्हा ने आने वाले चुनाव में बिहार में बड़े सामाजिक और राजनीतिक क्रांति होने की बात कही. उन्होंने कहा कि परिवर्तन प्रकृति का नियम है. जल्द ही लोगों को बिहार में एक बड़े राजनीतिक परिवर्तन देखने को मिलेगा. शत्रुघ्न सिन्हा ने लालू यादव से अपने संबंधों को पारिवारिक बताया. उन्होंने कहा कि राजनीति और पार्टी अपनी जगह है, संबंध अपनी जगह.

गौरतलब है कि कर्नाटक में 48 घंटे के सियासी उतार-चढ़ाव के बाद आखिरकार बीजेपी की सरकार बन गई है. बीजेपी के बीएस येदियुरप्पा ने आज सीएम पद की शपथ ले ली है. प्रदेश के राज्यपाल वजुभाई वाला ने येदियुरप्पा को सीएम पद की शपथ दिलाई. येदियुरप्पा तीसरी बार कर्नाटक के सीएम बने हैं. एक तरफ बीजेपी के सीएम उम्मीदवार शपथ ली है तो दूसरी तरफ कांग्रेस ने राज्यपाल पर आरोप लगाते हुए चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (CJI) का रुख किया है और तत्काल सुनवाई करने का आग्रह किया है.

यह भी पढ़ें : बोले रघुवंश – कर्नाटक में हुई है लोकतंत्र की हत्या, जरूरत पड़ी तो कुर्बानी भी देंगे

कांग्रेस की अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस एके सीकरी, अशोक भूषण और एसए बोडबे की खंडपीठ ने आधी रात के बाद पौने दो बजे कांग्रेस-जेडीएस की याचिका पर सुनवाई शुरू की और सुबह पांच बजे य‍ह फैसला सुना दिया कि व‍ह राज्‍यपाल के संवैधानिक अधिकारों में दखल नहीं दे सकती, इसलिए येदियुरप्‍पा पहले से तय कार्यक्रम के मुताबिक आज ही शपथ लेंगे. याचिकाकर्ता कांग्रेस के अभिषेक मनु सिंघवी ने अर्जी दी थी कि शाम तक इस शपथ ग्रहण समारोह को टाल दिया जाए, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया है.