‘शर्म की बात है, ऐसा चौकीदार जिसे ना तो देश लुटने की खबर है ना बेटियों के आबरू की’

India Gate, Rahul Gandhi, Kathua Unnao, Unnao rape case, congress, राहुल गांधी , कांग्रेस, प्रियंका गांधी, कांग्रेस , हार्दिक पटेल, स्मृति ईरानी, मनमोहन सिंह, नरेंद्र मोदी, , rjd, bihar, मीसा भारती, तेज प्रताप यादव

लाइव सिटीज डेस्क : जम्मू के कठुआ और यूपी के उन्नाव में हुए गैंग रेप पर पूरा देश उबल रहा है. उन्नाव और कठुआ गैंगरेप की घटना देशभर के लिए चौंकाने वाली है. हर किसी के मन में एक बार फिर महिला सुरक्षा के प्रति चिंता सामने आई है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार देर रात सभी को चौंकाते हुए राजधानी दिल्ली के इंडिया गेट पर कैंडल मार्च का ऐलान कर दिया. आधी रात को कांग्रेस के सभी बड़े नेता, राहुल की बहन प्रियंका गांधी अपने परिवार के साथ इंडिया गेट पहुंचे और उन्नाव-कठुआ मामले में इंसाफ की आवाज़ उठाई.

यहां बिहार में भी इन दोनों घटनाओं पर लोगों में गुस्सा है. सभी सरकार पर निशाना साध रहे हैं. इसी बीच राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के बेटे और पूर्व हेल्थ मिनिस्टर तेज प्रताप यादव ने भी ट्वीट कर अपना रोष जताया है. इसके साथ ही राज्यसभा सांसद मीसा भारती ने भी ट्वीट के माध्यम से इस घटना पर अपना दुःख जाहिर किया है.

मीसा भारती और तेज प्रताप यादव का ट्वीट

मीसा भारती ने लिखा है कि तथाकथित रामभक्तों से अनुरोध है कि आप अपने ऐसे घृणित, वीभत्स कुकृत्य के बचाव में इस निर्लज्जता से “जय श्री राम” के नारे ना लगाएँ कि हमारे राम तुम्हारी हैवानियत के पीड़ितों से कभी नज़र भी ना मिला पाएँ!

वहीं तेज प्रताप यादव ने लिखा है कि बड़े शर्म की बात है कि हमारे देश का ऐसा चौकीदार है, जिसे न तो देश लूटने पर कुछ खबर होती है और न हीं देश की आबरू (बेटियों की इज्जत) लूटने पर..! सनद रहे कि बेटी बचाओ का नारा भी चौकीदार के परिवार वाले हीं दिया करते हैं.

तेज प्रताप आगे लिखते हैं कि वार्ड चुनाव जीतने के बाद हल्ला मचाने वाली BJP,नीतीश के द्वारा जनादेश की निर्मम हत्या के तुरंत बाद ट्वीट कर खुशियाँ मनाने वाले PM को उनके विधायकों की गुंडागर्दी और देश की बेटियों के साथ हो रहे हृदयविदारक कुकृत्यों की जघन्यता के बाद भी मुंह खुलना तो दूर ऊंगली तक नहीं हिलता! डूब मरो.

क्या है कठुआ का पूरा मामला

बता दें कि जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में जनवरी में 8 साल की बच्ची को अगवा किया गया. उसे रासना गांव के एक मंदिर में बंधक बनाकर कई दिनों तक गैंगरेप किया गया. बाद में उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी गई. फिर पत्थर से सिर कुचल दिया गया. रीढ़ की हड्डी तोड़ दी गई, ताकि यह हादसा लगे.

मामला अब क्यों सामने आया?

इस मामले में 4 महीने बाद अब पुलिस ने 8 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है. मंदिर के मुख्य सेवादार सांझीराम को अपहरण, दुष्कर्म और हत्या का मुख्य साजिशकर्ता बताया गया है. उसके साथ कुल 8 लोग गिरफ्तार किए गए हैं, जिनमें से कुछ हिंदू एकता मंच से भी जुड़े हैं.

यह भी पढ़ें : राहुल गांधी की एक आवाज़ पर उमड़ा जनसैलाब, सड़क पर उतरे कांग्रेसी, कहा- अब बस !

स्मृति ईरानी पर हार्दिक का तंज, मनमोहन सिंह को चूड़ियां भेजने वाली मोदी जी को क्या भेजेंगी

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*