आराः मौत के विरोध में NH-84 पर फूटा लोगों का गुस्सा, सड़क जाम से परिचालन बाधित

आरा/शाहपुर (पुष्कर पांडेय/सोनू सिंह) : भोजपुर जिले के शाहपुर थाना क्षेत्र के इटवां गांव के समीप सड़क दुर्घटना में हुई युवक की मौत की खबर के दो दिन बाद ग्रामीणों ने आरा-बक्सर मुख्यमार्ग को जाम कर दिया गया. जाम के कारण आवागमन पूरी तरह से प्रभावित हो गया. आरा पटना मुख्य मार्ग पर वाहनों की लंबी कतार लग गयी.

मालूम हो कि सडक दुर्घटना में तीन दिन पूर्व युवक की हुई मौत के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर गुस्साये ग्रामीणों द्वारा थाना क्षेत्र के इटवां गांव के समीप आरा-बक्सर मुख्यमार्ग एनएच 84 को मंगलवार की सुबह सड़क को जाम कर यातायात परिचालन ठप कर दिया गया. सड़क जाम की सूचना के बाद स्थानीय पुलिस ने जाम करने वाले लोगों को समझाकर सड़क जाम हटवाने की काफी कोशिश की गई.



गुस्साए लोगों को समझाती पुलिस

लेकिन ग्रामीणों ने युवक की मौत के जिम्मेदार आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर नारेबाजी की. साथ ही जामस्थल पर उच्चाधिकारियों को बुलाने तथा आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग की गई. ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि युवक ने मौत के मामले में दोषी बनाकर जिनपर प्राथमिकी दर्ज किया गया वो लोग गांव में सरेआम घूम रहे हैं.

इधर बिहियां सीओ मनोज कुमार एवं कारनामेपुर ओपी प्रभारी धनंजय सिंह ने भी ग्रामीणों से वार्ताकार जाम हटाने का अनुरोध किया गया. विदित हो कि शुक्रवार की रात को अनियंत्रित बोलेरो के टक्कर से इटवां गांव के निवासी रोहित कुमार पिता सुनील सिंह की मौत हो गई थी. जिसमे पुलिस द्वारा तीन नामजद लोगों को आरोपी बनाया गया था. साथ दुर्घटना के दोषी चालक को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.