राजीव रावत बोले- गलत फोटो के आधार पर मुझे फंसाया जा रहा, कभी नहीं गया मुजफ्फरपुर

bihar, muzaffarpur shelter home, brajesh thakur, rajeev rawat, damodar rawat, cbi, jdu, Muzaffarpur, shelter home case, bjp leader, suresh Sharma, manju verma, तेजस्वी यादव, मुजफ्फरपुर, मंजू वर्मा

जमुई, राजेश कुमार : ब्रजेश ठाकुर से संबंधों को लेकर चर्चा में आए जदयू नेता सह जदयू के पूर्व युवा प्रदेश महासचिव राजीव रावत ने सीबीआई के रडार पर आने तथा पार्टी पद से निष्कासन के बाद सोशल मिडिया के माध्यम से अपनी सफाई देते हुए इसे उनके व उनके पिता की छवि को खराब करने की साजिश बताया है. उन्होंने बताया है कि मुजफ्फरपुर कांड से उनका कोई लेना देना नहीं है ना ही ब्रजेश ठाकुर से उनकी कोई नजदीकियां रही है. राजीव ने मिडिया पर दिखाई जा रही तस्वीरों को फेसबुक के माध्यम से सामने रखते हुए कहा है कि उक्त सारी तस्वीरें मुजफ्फरपुर की न होकर जमशेदपुर के होटल दर्पण की है जहां वे 2017 में अपने एक करीबी मित्र की शादी में शामिल होने पहुंचे थे.

राजीव ने फेसबुक पोस्ट से दी सफाई

रविवार को फेसबुक के माध्यम से साझा किए गए अपने पोस्ट में उन तस्वीरों को सार्वजनिक करते हुए राजीव ने ब्रजेश ठाकुर के साथ अपने संबंधों को सिरे से ख़ारिज करते हुए कहा है कि उनकी व उनके पिता पूर्व मंत्री दामोदर रावत की छवि को नुकसान पहुंचाने की नीयत से की गई यह साजिश सीबीआई जांच के बाद विफल हो जाएगी. पार्टी द्वारा जदयू से बाहर का रास्ता दिखाने के बावजूद पार्टी के प्रति गहरी निष्ठा जताते हुए राजीव ने लिखा है कि साल 2017 के 29 व 30 अप्रैल को उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर मित्रों के साथ की कुछ तस्वीरें साझा की थी जो जमशेदपुर के बिष्टुपुर स्थित होटल दर्पण की है ना कि मुजफ्फरपुर की.

राजीव रावत का फेसबुक पोस्ट
ब्रजेश ठाकुर से नहीं है कोई संबंध

राजीव ने यहां यह भी जिक्र किया है कि वो ना तो कभी मुजफ्फरपुर गए हैं ना ही किसी ब्रजेश ठाकुर को जानते हैं जिसके साथ उनके अंतरंग संबंधों की चर्चा की जा रही है. यहां बता दें कि मुजफ्फरपुर शेल्टर होम कांड में संलिप्तता की हवा के बाद पूर्व समाज कल्याण मंत्री व जदयू के प्रदेश उपाध्यक्ष दामोदर रावत के बेटे राजीव रावत पर पार्टी ने कार्रवाई करते हुए उन्हें युवा प्रदेश महासचिव पद से हटा दिया है. जिसको लेकर जिले की राजनीति के साथ-साथ चर्चाओं का बाजार गर्म है.

पार्टी से निकाला गया है बाहर

गौरतलब है कि जदयू ने युवा जदयू के प्रदेश महासचिव राजीव रावत तत्काल प्रभाव से पदमुक्त कर संगठन से निष्कासित कर दिया. ब्रजेश ठाकुर से नजदीकी सामने आने बाद पार्टी ने यह कार्रवाई की है. राजीव रावत बिहार सरकार के पूर्व मंत्री दामोदर रावत का पुत्र है. दामोदर समाज कल्याण विभाग के भी मंत्री रहे हैं. युवा जदयू के प्रदेश अध्यक्ष व विधायक अभय कुशवाहा ने बताया कि राजीव पर मुजफ्फरपुर में ब्रजेश के होटल में ठहरने और उससे नजदीकी रखने की खबर सामने आई है. इसी आधार पर राजीव को तमाम पदों से हटा दिया है.

यह भी पढ़ें : दामोदर रावत बोले- ब्रजेश से नहीं है मेरा संबंध, राजीव का निष्कासन पार्टी का अंदरूनी मामला

तेजस्वी यादव बोले- माल लुटाए पिता दामोदर रावत, बेटे को बलि का बकरा बना दिया नीतीश ने

About Razia Ansari 1826 Articles
बोल की लब आज़ाद हैं तेरे, बोल जबां अब तक तेरी है

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*