Gujarat Verdict : शत्रुघ्न सिन्हा ने की पीएम मोदी की तारीफ, तो राहुल गांधी को दी बधाई

shatrughan-story_647_102515
फाइल फोटो

लाइव सिटीज डेस्क : अपनी ही पार्टी से खफा रहने वाले बिहारी बाबू शत्रुघ्न सिन्हा ने आज बीजेपी की खुलकर तारीफ की. काफी दिनों बाद शत्रुघ्न सिन्हा ने पीएम मोदी और अमित शाह की खुले दिन से तारीफ की है. बता दें कि गुजरात और हिमाचल प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी ने जीत दर्ज कर ली है. इसी सिलसिले में काफी दिनों बाद शत्रुघ्न सिन्हा ने पीएम मोदी और अमित शाह की खुले दिन से तारीफ की है. जैसे ही बीजेपी ने बढ़त बनाई, वैसे ही उन्होंने एक के बाद एक कई सारे ट्वीट्स कर डाले.

शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्वीट किया कि “माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके अथक प्रयासों, ईमानदारी, ऊर्जा … और उनके जादू के लिए बधाई, जो अभी भी बरकरार है. हिमाचल प्रदेश और गुजरात में हमारी व्यापक जीत के लिए महान रणनीतिकार बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और अरुण जेटली को बधाई. जय भाजपा!”



इसके बाद एक और ट्वीट में उन्होंने कहा कि “उभरते युवा ब्रिगेट जेपी नड्डा और अनुराग ठाकुर को भी हिमाचल में जबरदस्त सफलता के लिए बधाई. ईमानदारी से आशा और इच्छा है कि भाजपा उचित स्थान पा सके ताकि हिमाचल प्रदेश के शानदार भविष्य का नेतृत्व किया जा सके.”

यही नहीं एक अन्य ट्वीट में शत्रुघ्न सिन्हा ने “कांग्रेस और उनके युवा प्रेसीडेंट राहुल गांधी को भी बधाई दी है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के प्रदर्शन ने एग्जिट पोल के सभी उम्मीदों को पार किया और कई बाधाओं के बावजूद उन्होंने कांग्रेस को जबरदस्त परिणाम दिये. साथ ही उन्होंने लोकतंत्र के बने रहने की भी बात की.”

और अंतिम ट्वीट में उन्होंने लिखा कि “अंत में चुनाव में मजबूती से उभरने और सराहनीय प्रदर्शन के लिए हार्दिक पटेल, जिग्नेश पटेल और अल्पेश ठाकोर जैसे लोकप्रिय, युवा और आश्चर्यजनक नेताओं को ईमानदारी से बधाई.”

गौरतलब है कि बिहार के भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा अपनी पार्टी लाइन के खिलाफ जाकर बयान देने के लिए जाने जाते हैं. वह कभी पीएम से सवाल पूछते हैं तो कभी कांग्रेस की तारीफ करते हैं. बता दें कि गुजरात और हिमाचल प्रदेश में बीजेपी ने जीत का परचम लहरा दिया है. हालांकि, प्रदर्शन के हिसाब से देखें तो गुजरात में इस बार कांग्रेस का बेहतर प्रदर्शन रहा है.

बिहारी बाबू का नया ‘ट्वीट बम’, कहा- कांग्रेस लोकतंत्र की सबसे बड़ी हितैषी