कर्नाटक विधानसभा चुनाव में हो जाएगी JDU की जमानत जब्त, बोले शिवानंद तिवारी

शिवानंद तिवारी
शिवानंद तिवारी (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्क : कर्नाटक में हो रहे विधानसभा चुनाव में जदयू अपनी सशक्त उपस्थिति दर्ज कराना चाहती है. कर्नाटक में अगले महीने हो रहे चुनाव को लेकर जदयू ने भी तैयारी तेज कर दी है. अभी तक पार्टी ने चुनावी मैदान में कुल 34 उम्मीदवारों को उतारा है. जदयू 35 सीटों पर चुनाव लड़ने जा रही है, उम्मीदवारों की घोषणा भी पार्टी ने कर दी है. लेकिन इसी बीच राजद की ओर से शिवानंद तिवारी का बड़ा बयान आ गया है.

RJD नेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव में जदयू की जमानत जब्त हो जाएगी. उन्होंने कहा कि BJP के साथ चलते हुए नीतीश कुमार खुद को सेक्युलर बता रहे हैं. राजद नेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि भाजपा के साथ दोबारा सरकार बनाने के बाद सीएम नीतीश में तब्दीली देखी जा रही है.

शिवानंद तिवारी का तंज

शिवानंद तिवारी ने नीतीश कुमार द्वारा खुद को सेकुलर समझने पर भी निशाना साधा है. राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी की मानें तो भारतीय जनता पार्टी के साथ सरकार चला रहे नीतीश कुमार आखिर किस प्रकार से खुद को धर्मनिरपेक्ष बताते फिरते हैं. उन्होंने दावा किया कि कर्नाटक चुनाव में जनता दल यू को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ेगा और पार्टी के सभी उम्मीदवारों की जमानत जब्त होगी.

बता दें कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए बिहार से पार्टी ने नेताओं की सूची जारी कर दी है. इसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह, महासचिव सह सांसद आरसीपी सिंह, संजय कुमार झा, पूर्व मंत्री श्याम रजक, कहकशां परवीन, भवन निर्माण मंत्री महेश्वर हजारी, उद्योग मंत्री जय कुमार सिंह, अशोक चौधरी, अफाक अहमद खान, डॉ. अजय आलोक, संजय कुमार, तनवीर अख्तर, दिलीप कुमार चौधरी, कर्नाटक प्रदेश अध्यक्ष महिमा जे पटेल, लोकपाल जैन, सुभाष कपाटे, केवी शिवाराम और रमेश गुरुदेव का नाम शामिल है. डॉ. अलोक ने बताया कि पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव (संगठन) आरसीपी सिंह 28 अप्रैल को कर्नाटक चुनाव प्रचार के लिये जायेंगे.

यह भी पढ़ें : कर्नाटक चुनाव : CM नीतीश कुमार होंगे स्टार प्रचारक, JDU ने जारी की कैंपेनरों की लिस्ट

हालांकि जदयू का जनाधार नहीं होने के कारण बीजेपी बहुत गंभीरता से नहीं ले रही है. यही कारण है कि बीजेपी नेताओं ने अभी तक जदयू के चुनाव लड़ने पर रिएक्ट नहीं किया है. इधर कांग्रेस अपने स्टार प्रचारकों की लिस्ट में तेजस्वी का नाम डालकर बिहार में राजनीतिक सरगर्मी बढ़ा दी है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*