नालंदा और बोधगया के भ्रमण पर हैं स्पीकर सुमित्रा महाजन, महाबोधि मंदिर का किया दर्शन

लाइव सिटीज डेस्क/गया : चार दिवसीय सम्मेलन में बिहार आई लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन आज नालंदा और बोधगया के भ्रमण पर हैं. इस क्रम में वह सबसे पहले बोधगया पहुंची. बोधगया पहुंचने पर उनका भव्य स्वागत किया गया. सुमित्रा महाजन हवाई मार्ग से गया हवाई अड्डा पहुंची. यहां से वह बोधगया के लिए रवाना हो गयीं. गया में वह करीब दो घंटे रहेंगी.

सबसे पहले उन्होंने महाबोधि मंदिर में दर्शन व भ्रमण किया. इसके बाद महाबोधि मंदिर के पास स्थित 80 फीट ऊंची बुद्धा की मूर्ति का भी अवलोकन किया. इसके बाद वह नालंदा के लिए रवाना हो जायेंगी. वहां वह नालंदा विवि के भग्नवाशेष देखेंगी. दोनों स्थानों का भ्रमण करने के बाद देर शाम को वह दिल्ली के लिए रवाना हो जायेंगी. नालंदा, राजगीर, बोधगया व गया का भ्रमण कार्यक्रम में लोकसभा अध्यक्ष के साथ विभिन्न राज्यों से पहुंचे कई डेलिगेट के सदस्य भी शामिल हैं. कई डेलिगेट रविवार को ही विशेष वाहनों से ऐतिहासिक स्थल देख आये.

गौरतलब है कि चार दिवसीय सम्मेलन में बिहार सहित 20 राज्यों के 74 प्रतिनिधियों व उनके साथ आये व्यक्तियों ने भाग लिया. इसमें लोकसभा अध्यक्ष सहित 20 अध्यक्ष/सभापति व 17 उपाध्यक्ष/उप सभापति भी शामिल हुए. लोकसभा की महासचिव और विधानमंडल के 23 सचिवों ने भी सम्मेलन में भाग लिया.

गया में फिर मिले जिंदा बम, स्कूल के गेट पर किया गया था प्लांट

लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सांसदों की कार्य क्षमता बढ़ाये जाने की वकालत की है. उन्होंने कहा कि एक सांसद को अपने क्षेत्र की परेशानियों के साथ ही संसद में राष्ट्र के बड़े मुद्दों पर भी बात रखनी होती है. ऐसे में उनके विषय विशेष प्रशिक्षण को लेकर स्पीकर रिसर्च इनिशिएटिव लिया गया है. इसमें बाहर के विषय विशेषज्ञों को बुला कर संसद में पूर्ण सत्र के माध्यम से सांसदों को जानकारी उपलब्ध करायी जाती है. महाजन ने शिकायती लहजे में कहा कि मीडिया में संसद का हंगामा ही दिखता है, लेकिन देर रात होने वाला काम नहीं दिखता.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*