मुजफ्फरपुर हादसे पर इंसाफ मांगने निकले तेजस्वी यादव, किया राजभवन मार्च

पटना : मुजफ्फरपुर में 10 मासूम बच्चों की मौत पर सियासत अब पूरी तरह गर्म हो गई है. जिस गाड़ी से हादसा हुआ वह बीजेपी नेता की थी. इस बात से अब सरकार भी निशाने पर आ गई है. विपक्षी पार्टियां भी अब पूरी तरह से सरकार को घेर रही हैं. लोगों ने सरकार की ओर से अब तक कार्रवाई नहीं किये जाने के विरोध में हंगामा किया. अब नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भी सरकार पर हमला बोल दिया है. आज सोमवार को तेजस्वी यादव ने मुजफ्फरपुर में 10 बच्चों की मौत और बीजेपी नेता की गिरफ़्तारी ना होने पर महामहिम राज्यपाल से मिलकर ज्ञापन सौंपा. उन्होंने राजभवन तक पैदल मार्च भी किया.

इतना ही नहीं तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर बीजेपी और नीतीश कुमार पर तंज भी किया है. उन्होंने लिखा है कि 10 मासूम बच्चों को बेरहमी से कुचलने वाले बीजेपी नेता की अविलंब गिरफ़्तारी हो. नीतीश कुमार और सुशील मोदी ने नशे में धुत्त होकर तांडव मचाने वाले भाजपाई नेता को छुपा रखा है. क्या आपका प्रशासन 35 मासूमों को रौंदने वाले हत्यारे को गिरफ़्तार नहीं कर सकता?

आगे उन्होंने एक और ट्वीट में लिखा है कि शराब के नशे मे चूर नीतीश कुमार के भाजपाई नेता ने दिन दहाड़े 35 घरो के चिराग़ों को लहूलूहान कर 10 बच्चों को निर्ममता से कुचल दिया. लेकिन अभी तक उस हत्यारे बीजेपी नेता की गिरफ़्तारी भी नहीं हुई है. मुख्यमंत्री की लोक लाज समाप्त हो चुकी है. जनतंत्र में जनभावनाओं का ख़्याल रखना चाहिए.

तेजस्वी बोले : जब तक केंद्र में BJP सरकार है, तब तक मायावती नहीं जायेंगी राज्यसभा

बता दें कि शनिवार को भाजपा नेता मनोज बैठा के बोलेरो ने डेढ़ दर्जन से अधिक बच्चों को कुचल दिया था. इसमें 9 बच्चों की मौत हो गयी थी. वहीं अभी कई जख्मी बच्चों का इलाज एसकेएमसीएच में चल रहा है. घटना को लेकर डीएम धमेंद्र सिंह की मानें तो यह घटना बच्चों को सड़क पार करवाने के दौरान हुई है. स्कूल में छुट्टी के बाद बच्चों को सड़क पार कराया जा रहा था, तब यह हादसा हुआ. बहरहाल, घटना को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जांच के आदेश दिये हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*