पटना के शेल्टर होम में 2 युवतियों की मौत, समाज कल्याण विभाग और पुलिस को नहीं दी जानकारी

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार के मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप कांड को लेकर चल रहा विवाद अभी थमा भी नहीं था कि इसी बीच राजधानी पटना के आसरा शेल्टर होम की दो युवतियों की मौत हो गई है. और हैरानी की बात ये कि 24 घंटे बाद इसकी जानकारी समाज कल्याण विभाग और पुलिस को दी गई. जानकारी के मुताबिक दोनों की मौत पटना के पीएमसीएच अस्पताल में हुई है. शनिवार को दोनों की तबीयत बिगड़ी थी, जिसके बाद उन्हें पीएमसीएच में भर्ती कराया गया था.

पुलिस शेल्टर होम के कर्मचारियों से पूछताछ कर रही है

शेल्टर होम के कर्मचारियों ने समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों और पुलिस को इस घटना की जानकारी शनिवार को नहीं दी. रविवार को पुलिस अधिकारियों को इस बात की जानकारी मिली. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों शवों को कब्जे में ले लिया. पुलिस शेल्टर होम के कर्मचारियों से पूछताछ कर रही है. घटना पटना के राजीव नगर इलाके में स्थित आसरा शेल्टर होम की है.

यह भी पढ़ें : पटना के आसरा होम से लड़की भगाने की कोशिश में थे 50 साल के बनारसी बाबू, अब जायेंगे जेल
युवतियों की मौत शनिवार की शाम को ही हुई थी

दोनों मृतक युवतियों की मौत शनिवार की शाम को ही हुई थी. मृतकों की उम्र 40 साल और 17 साल बताई जा रही है. पटना के पीएमसीएच में तैनात पुलिकर्मियों ने बताया कि दोनों की मौत इलाज के दौरान हुई है. सब-इंस्पेक्टर ने बताया कि मजिस्ट्रेट आये थे जिनके आने के बाद हमें मामले की जानकारी मिली. इस मामले में हमें संस्था के लोगों ने कोई सूचना नहीं दी थी. इस मौत के बाद आसरा शेल्टर होम फिर से विवादों में आ गया है. जिस शेल्टर होम में ये घटना हुई है वो पटना के राजीव नगर के नेपाली नगर में है. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.

इससे पहले राजीव नगर के आसरा सुधार गृह से शुक्रवार की सुबह कुछ लड़कियों ने भागने की कोशिश की थी. सुबह-सुबह चार लड़कियां ग्रिल काटकर भागने की कोशिश कर रही थी लेकिन इस बात की जानकारी सुधार गृह के लोगों को चल गयी और लड़कियों को पकड़ लिया गया था. इस बात की जानकारी पुलिस तक पहुंची थी जिसके बाद राजीव नगर थाना की पुलिस ने तमाम पहलुओं पर जांच शुरू की थी. पुलिस ने इस मामले में आसरा सुधार गृह के संचालक चेतन से भी पूछताछ की थी.

About Razia Ansari 1906 Articles
बोल की लब आज़ाद हैं तेरे, बोल जबां अब तक तेरी है

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*