Viral Video : ललन सिंह ने तेजस्वी यादव को चोर, बेशर्म, भ्रष्ट सबकुछ कह डाला

lalan
बिहार सरकार के मंत्री ललन सिंह

लाइव सिटीज, पटना : व्हाट्सएप यूनिवर्सिटी में मंगलवार 26 दिसंबर की सुबह से बिहार के जल संसाधन मंत्री राजीव रंजन सिंह उर्फ़ ललन सिंह का एक वीडियो बहुत तेजी से वायरल हो रहा है. हालांकि यह वीडियो पुराना है और बिहार विधानसभा में विरोधी दल के नेता तेजस्वी यादव को दिया गया ललन सिंह का जवाब है. फिर भी, अभी जबकि चारा घोटाले में लालू प्रसाद फिर से जेल जा चुके हैं, वीडियो की प्रासंगिकता बढ़ जाती है. कारण कि ललन सिंह ने तभी फोरकास्ट कर दिया था कि लालू प्रसाद को सजा होगी, कोई रोक नहीं सकता.

दरअसल, बिहार विधानसभा में विरोधी दल के नेता तेजस्वी यादव ने जल संसाधन विभाग में घपले का आरोप किया था. तब मामला गरमाया हुआ था भागलपुर के बटेश्वर स्थान में बने बांध का उद्घाटन के पहले ही टूट जाना. इसे लेकर विपक्ष मंत्री ललन सिंह को घेरने में लगा था. इसके अलावा बांध को चूहे काट जाते हैं, वाले बयान को लेकर भी ललन सिंह तेजस्वी यादव के निशाने पर थे.



ललन सिंह ने कहा – चोर मचाये शोर

तेजस्वी यादव का जवाब देने को जब मंत्री ललन सिंह खड़े हुए, तो वीडियो में साफ़ दिख रहा है कि वे पूरे तैश में हैं. कहते हैं – जिसका खानदान और परिवार आकंठ भ्रष्टाचार में डूबा हो, वह भ्रष्टाचार की बात करेगा. इन्होने तो भ्रष्टाचार का इतिहास कायम किया है. बेशर्म हैं. आइना देखिये. जो खुद भ्रष्ट हैं, वह आइना में भी भ्रष्ट ही दिखेंगे. जो चोर है, वो आज शोर मचा रहा है.

ललन सिंह बोले – बटेश्वर स्थान बांध के निर्माण में घपले की बात हो रही है ? यह परियोजना साल 1977 में स्वीकृत हुई थी. फिर 1992 से 2005 तक इसके नहर का निर्माण हुआ. बाद में सिर्फ तकनीकी और यांत्रिकी काम हुए. तो फिर तेजस्वी यादव बताएं कि 1992 से 2005 के बीच निर्माण में घपला हुआ तो सरकार किसकी थी ? जानकारी हो कि इस अवधि में बिहार में राजद की सरकार थी. ऐसे में घपला तो तभी हुआ न.

यहां क्लिक कर देखें वीडियो भी…

हाथी पर बेशर्म आते हैं जेल से बाहर

मंत्री ललन सिंह वीडियो में अपने इसी भाषण के दौरान यह भविष्यवाणी करते दिख जाते हैं कि तेजस्वी के परिवार के सुप्रीमो फिर से सजा पाने जा रहे हैं. कोई रोक नहीं सकता. उन्होंने कहा कि चारा खाने वाला व्यक्ति पहले भी जेल गया, लेकिन तब बाहर हाथी पर आये. मानों, कोई स्वतंत्रता आंदोलन के सिपाही हों. चोरी के जुर्म में जेल गया व्यक्ति हाथी पर तभी बाहर आता है, जब वह बेशर्म हो.

उन्होंने तेजस्वी पर सीधा अटैक करते हुए कहा कि आप पहली बार जीत कर आये हैं. सार्वजनिक जीवन में अभी-अभी आये हैं. पहले ज्ञान हासिल कीजिये. फिर घोटाले पर बोलिए.

केंद्र सरकार का निर्देश पढ़ने लगे ललन सिंह

आगे बांध को चूहों द्वारा कतरने की बात पर मंत्री ललन सिंह ने भारत सरकार के 1995 के गाइडलाइन्स के पन्नों को पढ़ा. इसमें बांध को किन-किन चीजों से खतरे हैं, बताया गया है. चर्चा चूहे की भी है.

चिल्‍ला रहे थे लालू प्रसाद, ललन सिंह को घसीट के बाहर फेंक देने का दे रहे थे हुक्‍म
CM नीतीश ने बताया अपने सबसे चहेते अधिकारी का नाम, तारीफ़ों के पुल बांध दिए
वीडियो : लालू पर गरम JDU, खुद मंत्री ललन सिंह ने प्रेस कांफ्रेंस कर दी चेतावनी