बिना मशीन खोले 19 लाख निगल गये चोर,शक के घेरे में एजेंसी

atm

पटना : पटना के गर्दनीबाग में स्थित एचडीएफसी बैंक के एक एटीएम से 19 लाख रुपये गायब हो गये हैं. बैंक और पुलिस दोनों ने माथा पकड़ रखा है कि रुपये गायब हुए कैसे. वजह यह कि मशीन सलामत है. पासवर्ड सेफ है. लॉक भी नहीं टूटा हुआ है. ऐसे में,शक की सारी सूई एटीएम में कैश डिपोजिट करने वाली एजेंसी की ओर घूम गई है.

मामले की जांच कर रही गर्दनीबाग पुलिस ज्‍यादा परेशान इसलिए भी है,क्‍योंकि 19 लाख रुपये गायब कराने की रिपोर्ट भी एटीएम में रुपये भरने वाली एजेंसी सीएनएस की ओर से ही आ रही है. कहा जा रहा है कि शुक्रवार की रात मशीन में 6 लाख रुपये की फिलिंग हुई थी. पहले से 20 लाख रुपये थे. रुपयों की फिलिंग का काम एटीएम के ट्रांजेक्‍शन रिकार्ड को ध्‍यान में रखकर किया जाता है.

atm

पुलिस को बताया गया है कि आगे रात को ही 19 लाख रुपये एटीएम मशीन से अचानक कम हो गये. सीसीटीवी वहां लगा था. इसे देखने से पता चलता है कि रात को एक बजे के करीब दो संदिग्‍ध एटीएम के भीतर प्रवेश किये थे. शक है कि रुपये उन दोनों ने ही गायब किये हैं. लेकिन बड़ा सवाल यह है कि दो अजनबी बिना मशीन खोले रुपये कैसे गायब कर सकते हैं.

पुलिस का शक एजेंसी की ओर बढ़ा है. वजह कि सिस्‍टम यह है कि एटीएम की चाबी एजेंसी के पास होती है. फिर दो अलग-अलग पासवर्ड होते हैं,जो रुपये की फिलिंग करने जा रहे कर्मचारी को मुहैया कराया जाता है. पुलिस का कहना है कि इतना तो तय है न कि जिसने भी 19 लाख रुपये गायब किये हैं कि उनके पास चाबी और पासवर्ड दोनों था. वरना रुपये निकालने के लिए मशीन के साथ छेड़छाड़ की गई होती.

बताते चलें कि कुछ महीने पहले बेऊर थाना के महावीर कालोनी में यूनियन बैंक आफ इंडिया के एटीएम से 13 लाख रुपये की चोरी की गई थी. आज गुरुवार 15 जून को जक्‍कनपुर थाना में केनरा बैंक के एटीएम में भी चोरी के प्रयास की रिपोर्ट लिखाई गई थी. रात को चोरों ने संजय नगर में एटीएम को काटने का प्रयास किया था.

यह भी पढ़ें –
लालू पहुंचे रांची, चारा घोटाला मामले में CBI कोर्ट में कल होगी पेशी
‘अपने पेशे को क्यों नुक़सान पहुंचा रहे हैं, लालू का ना कुछ बिगड़ा है ना बिगड़ेगा’