‘ऑपरेशन माई गंगा’ इफेक्‍ट – बालू लदा नाव जब्‍त, 4 गिरफ्तार

पटना : सेंट्रल रेंज के डीआईजी राजेश कुमार की पहल पर स्‍टार्ट किए गए ‘ऑपरेशन माई गंगा’ का इफेक्‍ट दूसरे दिन ही दिखने लगा है. दीघा थाने की पुलिस टीम ने दूसरे दिन ही बड़ी कार्रवाई की है, वो भी गंगा में अवैध रूप से बालू का उत्‍खनन करने वालों के खिलाफ.

रविवार को पुलिस टीम ने दीघा घाट के पास छापेमारी की. बालू से लदे एक नाव को जब्‍त किया. अवैध तरीके से गंगा के अंदर से बालू निकाल उसे बेचने ले जा रहे 4 बालू माफियाओं को भी पुलिस की टीम ने गिरफ्तार किया है. जिनमें साधू राय, जगन्‍नाथ राय, टपोस राय और अर्जून राय शामिल हैं. ये सभी मनेर के हल्‍दी छपरा इलाके के रहने वाले हैं. बालू से लदे जिस नाव को जब्‍त किया गया है, वो काफी बड़ा है. एसएचओ गोल्‍डन कुमार की मानें तो नाव में करीब दो ट्रक बालू लोड था.

जरूरत है दूसरे इलाकों में भी कार्रवाई की

गंगा में अवैध रूप से बालू उत्‍खन्‍न कर नाव से सोनपुर और छपरा ले जाया जाता है. जहां मुफ्त के माल को उंचे दाम पर बेचा जाता है. इसमें बगैर किसी लागत के बालू माफियाओं को मोटी कमाई होती है. यही कारण है कि दीघा के साथ ही दीदारगंज, कच्‍ची दरगाह और फतुहा सहित कई जगहों पर अवैध्‍ रूप से गंगा नदी में बालू का उत्‍खन्‍न होता है. अब जरूरत है कि दीघा के तरह ही दूसरे थानों की पुलिस टीम बालू माफियाओं के खिलाफ बड़ी व ठोस कार्रवाई करे. तभी ऑपरेशन माई गंगा सफल हो पाएगा.

गौरतलब है कि शनिवार को ही डीआईजी राजेश कुमार ने अपने इस अनोखे पहल की शुरूआत की थी. बालू माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई के लिए एंटी सेंड माइनिंग सेल का भी गठन किया गया था. 

यह भी पढ़ें –
DIG राजेश कुमार की अनोखी पहल, क्राइम फ्री जोन बनेगी गंगा
कांग्रेस की कशमकश : सोनिया का भरोसा लालू पर, राहुल की पसंद नीतीश हैं
तूफान से पहले की खामोशी, राष्ट्रपति चुनाव के बाद चलेंगे तीर..