बिहार में एक बार फिर होगी डॉक्टरों की हड़ताल, ठप हो सकती हैं स्वास्थ्य सेवाएं

doctors

पटना : बिहार के सरकारी अस्पतालों के डॉक्टर एक बार फिर हड़ताल पर जायेंगे. डॉक्टरों के संगठन भासा ने इसकी जानकारी दी है. भासा के अनुसार डॉक्टरों के राष्ट्रीय संगठन IMA ने भी हड़ताल को अपना समर्थन दिया है. डॉक्टरों की यह हड़ताल उनके सुरक्षा के मसलों और अन्य लंबित मामलों को लेकर की जा रही है.

बिहार के डॉक्टरों के संगठन भासा द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार आगामी 29 जून को राज्य भर के डॉक्टर एक दिवसीय हड़ताल पर रहेंगे. इस वजह से 29 जून को राज्य में स्वास्थ्य सेवाएं ठप हो सकती हैं. भासा ने बताया है कि उनकी हड़ताल राज्य के डॉक्टरों पर लगातार हो रहे हमलों और अन्य लंबित मांगों को लेकर है. डॉक्टरों के राष्ट्रीय संगठन IMA और भासा ने इस हड़ताल की सूचना राज्य सरकार को भी दे दी है.

doctors

इसके पहले बीते महीने भी राज्य भर के सरकारी अस्पतालों में तैनात जूनियर डॉक्टरों ने भी हड़ताल की थी. उनकी हड़ताल पीजी एडमिशन के दौरान हुए लाठीचार्ज के विरोध में पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल (पीएमसीएच) के जूनियर डॉक्टर हड़ताल पर चले गये थे. बाद में राज्य भर के सभी जूनियर डॉक्टरों ने भी हड़ताल का समर्थन किया था. बाद में स्वास्थ्य विभाग ​के प्रधान सचिव आरके महाजन की पहल पर गिरफ्तार पीजी छात्रों को जमानत पर रिहा किया गया, तब जाकर हड़ताल खत्म हुई थी.

17 मरीजों की हो गई थी मौत
जूनियर डॉक्टरों के हड़ताल की वजह से अकेले राजधानी पटना के पीएमसीएच में 17 मरीजों की मौत हो गई थी. इमरजेंसी वार्ड में एक भी ऑपरेशन नहीं हो सका था ओपीडी से करीब 500 मरीजों को बिना इलाज लौट जाना पड़ा. पीएमसीएच के अलावा एनएमसीएच, आईजीआईएमएस, एसकेएमसीएच मुजफ्फरपुर, जेएनएमसीएच भागलपुर, एएनएमसीएच गया, डीएमसीएच, राजकीय मेडिकल कॉलेज बेतिया और पावापुरी मेडिकल कॉलेज में कार्यरत डॉक्टरों ने हड़ताल की घोषणा की है.

यह भी पढ़ें –
CBSE के हजार स्‍कूल लेते हैं सिर्फ ठेका, 500 करोड़ का धंधा, CBI जांच के लिए पप्‍पू ने पत्र लिखा
11 महीने के कॉन्ट्रैक्ट पर जेलों में हुई डॉक्टरों की बड़ी बहाली, देखें पूरी लिस्ट
लखीसराय गैंगरेप : सीएम नीतीश ने लिया संज्ञान, PMCH हुआ एक्टिव