देश-विदेश में बैठ कर छात्र ले सकते हैं इग्नू में एडमिशन, जुलाई सत्र के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू

ignou

लाइव सिटीज डेस्क/गोपालगंज : अगर आपको एडमिशन के लिए मनचाहा विषय नहीं मिल सका है, तो दाखिले के लिए निराश होने की जरूरत नहीं है. आप इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी यानी इग्‍नू में जुलाई सत्र में एडमिशन के लिए रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. 30 जून तक नये सत्र में एडमिशन होगी. स्नातक से लेकर स्नातकोत्तर सहित कई कोर्स की सुविधाएं मौजूद हैं. कमला राय महाविद्यालय में आवेदन इग्नू की वेबसाइट से ऑनलाइन कर सकते हैं. इंटर कला के छात्र-छात्राएं भी साइंस से स्नातक कर सकते हैं. एडमिशन लेने के बाद छात्रों को इग्नू नि:शुल्क स्टडी मैटेरियल भी देगा.

इग्नू में पूरे साल दो सेशन 

इग्नू में पूरे साल दो सेशन, जुलाई और दिसंबर चलते हैं. विद्यार्थियों को प्रवेश के लिए वेबसाइट पर आइडी बनानी होगी. इसके बाद प्रवेश फॉर्म ऑनलाइन ही समिट करना होगा. क्षेत्रीय केंद्र दरभंगा के निदेशक डा. आशीष इकबाल ने नामांकन के लिए विवरिणका सभी केंद्रों पर जारी किया है.

ignou

स्नातक व स्नातकोत्तर में भी है कई कोर्स

बैचलर्स के सात डिग्री प्रोग्राम के लिए छात्र ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं. इनमें कला और पर्यटन, मास्टर ऑफ कम्प्यूटर एप्लीकेशन, सामाजिक कार्यो में स्नातकोत्तर, एमए (लैंगिक एवं विकास अध्ययन), एमए (एंथ्रोपोलॉजी), मास्टर ऑफ लाइब्रेरी एंड इंफार्मेशन साइंस जैसे कोर्स शामिल हैं. इग्नू के सहायक निदेशक डॉ आशिक इकबाल अंसारी ने बताया कि मास्टर्स में 26 कोर्सेस के लिए छात्र-छात्राएं अप्लाइ कर सकते हैं. पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा में विश्वविद्यालय 30 कोर्सेस के लिए एडमिशन कर रही है. वहीं, सर्टिफिकेट कार्यक्रम में छात्रों के लिए 19 ऑप्शन मौजूद हैं. अगर आप इन कोर्सेस में दाखिला पाने चाहते हैं तो ऑनलाइन अप्‍लाई कर सकते हैं.

वेबसाइट से फॉर्म कर सकते है अपलोड : प्राचार्या 

ऑनलाइन अप्‍लाई करने के लिए स्टूडेंट्स को यूनिवर्सिटी की वेबसाइट ignou.ac.in पर जाना होगा. किसी भी कोर्स में अप्‍लाई करने से पहले कोर्स की फीस और डॉक्यूमेंट्स की पूरी जानकारी जरूर प्राप्‍त कर लें. इग्नू की को-ऑडिनेटर डॉ मधु प्रभा सिंह ने कहा कि इस बारे में विस्तृत जानकारी इग्नू की वेबसाइट  www.ignou.ac.in से प्राप्त की जा सकती है.

यह भी पढ़ें – बिहार के ‘लालू प्रसाद यादव’ ने किया राष्ट्रपति चुनाव में नामांकन
जल्द ख़त्म होगी बिहार के प्राइवेट स्कूलों की मनमानी