भाजपा नेता कामेश्वर चौपाल की नतिनी बेउर से गायब, मचा हड़कंप

लाइव सिटीज पटना: भाजपा नेता व श्रीराम जन्मभूमि न्यास समिति के सदस्य कामेश्वर चौपाल की 10 साल की नतिनी सुमन कुमारी लापता हो गई है. मधुबनी के परमानंदपुर गांव के धनेश्वर चौपाल की बेटी सुमन एक साल से कामेश्वर चौपाल के बेउर की न्यू महावीर कॉलोनी स्थित घर में रहकर पढ़ाई कर रही है. 23 नवंबर को कामेश्वर अयोध्या के लिए कार से रवाना हो रहे थे. उनके निकलने के 10 मिनट बाद सुबह 7:40 बजे वह यह कहकर निकल गई कि वह भी नाना के साथ जाएगी.

कामेश्वर की कार दूर निकल चुकी थी. वह दौड़ते हुए उनकी कार का पीछा करने लगी. उसके बाद वह रास्ता भटक गई और नहीं लौटी. परिजनों ने उसकी काफी खोजबीन की, लेकिन कुछ पता नहीं चला. 24 नवंबर को उसकी गुमशुदगी का सनहा बेउर थाने में डार्क कराया गया. बेउर थानेदार मनीष कुमार ने बताया कि सनहा दर्ज होने के 24 घंटे बाद पुलिस ने अपहरण का केस दर्ज कर लिया है. कामेश्वर चौपाल ने बताया कि 22 नवंबर को पटना आया था. 23 नवंबर की सुबह अयोध्या वापस जा रहा था, उस वक्त सुमन मेरे पास आई थी. उसने मुझसे कहा था कि अयोध्या से मेरे लिए प्रसाद और चादर ले आइएगा. फिर हम निकल गए.

बता दें कि भाजपा नेता व श्रीराम जन्मभूमि न्यास समिति के सदस्य कामेश्वर चौपाल बिहार के उप-मुख्यमंत्री की पद के लिए उम्मीदवारों की लिस्ट में सबसे आगे चल रहे थे. उस वक्त उनके उपमुख्यमंत्री बनाए जाने की चर्चा जोरों पर थी. कामेश्वर चौपाल ने ही 9 नवंबर 1989 को राम मंदिर निर्माण के लिए हुए शिलान्यास कार्यक्रम में पहली ईंट रखी थी. जिसकी वजह से वह सुर्खियों में रहे थे.