काली मंदिर में पूजा करने गये गिरिराज,फिर जो कहा – अलर्ट हो गया प्रशासन

पटना/किशनगंज : केन्‍द्रीय राज्‍य मंत्री गिरिराज सिंह जहां जाते हैं,वहां कोई न कोई नई बहस छेड़ ही देते हैं . फिर शुरु हो जाता है आरोप-प्रत्‍यारोप का दौर . मामला भड़के नहीं,इसलिए प्रशासन को अधिक अलर्ट मोड में तुरंत आ जाना होता है . दरअसल, गिरिराज ‘हिन्‍दू मन’ की बात भाजपा के प्‍लान के मुताबिक करते हैं . आपको याद दिला दें कि पहले गिरिराज सिंह बोल चुके हैं कि जो भारत माता की जय नहीं बोल सकते,वे पाकिस्‍तान चले जाएं .

गिरिराज भाजपा की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में भाग लेने को किशनगंज पहुंचे थे . किशनगंज वैसे ही बहुत सेंसेटिव शहर है . भाजपा ने कार्यसमिति की बैठक भी तय रणनीति के हिसाब से किशनगंज में  तय की थी . 2014 के लोक सभा चुनाव के नतीजों की याद थी . जब बिहार के सभी दूसरे हिस्‍सों में नमो की आंधी चल गई थी,तब कोसी-सीमांचल ने इसे रोक लिया था . कोसी-सीमांचल की सभी सीटें भाजपा हार गई थी . वैसे भी पूर्णिया के आगे किशनगंज-अररिया में मुसलमानों की आबादी पर भाजपा बड़ी बहस करती रही है . कहा जाता रहा है कि हिंदू इधर अल्‍पसंख्‍यक होते जा रहे हैं .

giriraj

सो,गिरिराज सिंह के निशाने पर किशनगंज का इलाका पहले से रहा है . वे जानते हैं कि इधर ‘हिन्‍दू कार्ड’ ही सबसे अधिक चलेगा . हिन्‍दुओं को गोलबंद करने के तरीके अख्तियार करने होंगे . इसलिए,जब वे प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में शामिल होने को आये,तो हिंदुओं के बीच बहस बढ़ाने को नया मुद्दा तलाश ही लिया . शुरुआत स्‍वयं गिरिराज सिंह ने कर दी . मामला बिहार भर में जाना जा रहा है .

गिरिराज सिंह बहुतों के साथ काली मंदिर में पूजा करने को गये . स्‍थानीय लोगों के साथ केन्‍द्रीय राज्‍य मंत्री रामकृपाल यादव और बिहार विधान सभा में प्रतिपक्ष के नेता प्रेम कुमार भी थे . गिरिराज सिंह का यह प्रयोजन सिर्फ पूजा तक खत्‍म नहीं होना था,सो बात आगे बढ़ रही है .

पूजा के बाद ट्वीट कर गिरिराज सिंह ने आरोप किया कि हम इसलिए काली मंदिर पूजा करने को आये हैं,क्‍योंकि नीतीश कुमार ने इसका निर्माण महीनों से रोक रखा है . हम श्रद्धालुओं को बुलाकर यहां पहुंचे हैं . मंदिर से पूजा कर जैसे ही गिरिराज सिंह बाहर आये और ट्वीट करना शुरु किया,किशनगंज जिला प्रशासन सतर्क मोड में आ गया है .

यह भी पढ़ें :
मैथिली की जीत के लिए बड़ा रिस्‍क लिया था मदन मोहन झा ने  
लालू बोले : महागठबंधन में विवाद नहीं, नीतीश से लड़ाना चाहती है भाजपा