जीएसटी के बहाने पिता-पुत्र व्यवसायी ने की सेल्स टैक्स विभाग में तोड़फोड़

नवादा (पंकज कुमार सिन्हा): खाद्यान व्यवसायी संघ के अध्यक्ष अम्बिका प्रसाद और उनके पुत्र भाजपा नेता रवि गुप्ता ने जीएसटी के बहाने नवादा स्थित सेल्स टैक्स विभाग में जमकर तोड़-फोड़ करते हुए उपद्रव मचाया. इस क्रम में विभाग के कई महत्वपूर्ण कागजातों को फाड़ दिये जाने से विभाग को काफी नुकसान हुआ है. इस घटना को लेकर नगर थाना में विभाग के अधिकारी रविन्द्र कुमार ने लिखित आवेदन देकर प्राथमिकी दर्ज करायी है.
आयकर पदाधिकारी रविन्द्र कुमार ने बताया कि नगर के व्यवसायी अम्बिका साव व उनके पुत्र रवि गुप्ता सहित दर्जन भर की संख्या में रहे लोगों ने विभाग में तोड़-फोड़ करते हुए कई महत्वपूर्ण कागजातों को फाड़ दिया. खिड़की—अलमीरा आदि के शीशे फोड़ दिए तथा कर्मचारियों को जान से मारने की धमकी दी. घटना की सूचना आलाधिकारियों सहित जिले के डीएम-एसपी को भी दे दिया गया है. उन्होंने बताया कि दबंग कारोबारी द्वारा धमकी दिया गया कि केस करने पर जान से हाथ धोना पड़ेगा. इस घटना के बाद से विभाग के आधिकारियों व कर्मियों में दहशत हो गया है. हालांकि घटना की सूचना मिलते ही नगर थाना से पहुंची पुलिस को देखकर कारोबारी फरार हो गए. उन्होंने बताया कि दोनों उपद्रवी कारोबारी पिता-पुत्र हैं.
नगर के माल गोदाम निवासी अम्बिका साव का लक्ष्मी दाल मिल है तथा उसके पुत्र रवि गुप्ता का आरजी कॉरपोरेशन के नाम से फर्म संचालित है. पुलिस पिता—पुत्र दोनों को गिरफ्तार करने के लिये छापेमारी में जुट गई है. आयकर अधिकारी रविन्द्र कुमार ने बताया कि आयकर कार्यालय में जीएसटी की जानकारी के लिये सबसे पहले अम्बिका साव पहुंचे तथा धौंस दिखाते हुए जीएसटी की जानकारी मांगने लगा. परंतु लिंक फेल रहने के कारण विभाग के अधिकारी जानकारी के लिये ठहरने को कहा.
जिस पर कारोबारी अम्बिका साव विभाग के कर्मियों व आयकर अधिकारी रविन्द्र कुमार को गाली—गलौज करते हुए धमकी देने लगा. उसके बाद अम्बिका साव अपने पुत्र रवि कुमार गुप्ता को कुछ आदमियों के साथ बुलाया और फिर विभाग में जमकर तोड़-फोड़ करते हुए उपद्रव मचाने लगा. सहमे कर्मियों ने पुलिस को जब सूचना दी तो दोनों पिता-पुत्र दोनों फरार हो गये. उन्होंने बताया कि एक माह पूर्व एसबीआई के नाम से विभाग को एक 7 लाख का चेक दिया था जो बाउंस कर गया था. उस मामले में भी विभाग द्वारा कार्रवाई की जा रही है. इतना ही नहीं उसके उपर विभाग का पूर्व से 16 लाख का भी बकाया है.
इस संबंध में डीएम मनोज कुमार ने बताया कि बाहर रहने के कारण इस घटना का विस्तृत जानकारी नहीं है, लेकिन पता किया जा रहा है. विभाग में ऐसा किसी ने किया तो उस पर कार्रवाई होगी. इधर एसपी विकास बर्मन ने बताया कि उक्त व्यवसायी पर टैक्स बकाया है तथा उसके द्वारा दिया गया 7 लाख का चेक बाउंस कर गया था जिसके बाद नोटिस जाने पर उसने विभाग में इस तरह की घटना को अंजाम दिया है. विभाग के अधिकारी द्वारा दिये गये आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है. किसी विभाग में बड़े पैमाने पर तोड़फोड़ की यह पहली घटना है.
आयकर अधिकारी ने बताया कि तोड़फोड़ करते हुए रवि गुप्ता खुद को भाजपा नेता बताते हुए देख लेने की धमकी दे रहे थे.