लॉकडाउन में नहीं मान रहे अपराधी, महिला के साथ की छेड़खानी; विरोध किया तो गोली मारकर ले ली जान

लाइव सिटीज, पटना : बिहार में कोरोना की लहर को देखते हुए फुल लॉकउाउन लगा दिया है. लॉकडाउन का आज गुरुवार को दूसरा दिन है. इसे लेकर पुलिस की सख्ती बढ़ी हुई है. सुरक्षा को लेकर जगह-जगह पुलिस की तैनाती की गई है. पेट्रोलिंग भी की जा रही है. इसके बाद भी अपराधी बेलगाम हैं और घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं.

ताजा मामला बिहार के सिवान जिले का है. बताया जाता है कि सिवान के सराय ओपी क्षेत्र स्थित अतरसुआ गांव में लॉकडाउन की पहली रात में ही अपराधियों ने हत्या की वारदात को अंजाम दिया. अपराधियों ने पहले महिला के साथ छेड़खानी की, विरोध करने पर उसे गोली मार दी. गोली की आवाज सुन लोग पहुंचे, तब तक अपराधी फरार हो गए. आनन-फानन में घायल महिला को अस्पताल में एडमिट कराया गया. लेकिन वह नहीं बच सकी. डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

मृतका की पहचान धर्मेंद्र पंडित की 32 वर्षीय पत्नी सरस्वती देवी के रूप में हुई है. धर्मेंद्र पंडित बेंगलुरु में सर्विस करता है, और अभी वहीं है. बताया जाता है कि बुधवार की रात महिला अपने बच्चों के साथ अपनी छत पर सो रही थी. तभी अपराधी उसके छत पर आए और छेड़खानी करने लगे. महिला ने विरोध किया तो अपराधी ने वारदात को अंजाम दिया. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है. किसी की गिरफ्तारी की सूचना नहीं है.