पटना : कामधेनु स्टील फैक्ट्री पर ताबड़तोड़ फायरिंग, रंगदारी मांग रहे हैं बदमाश

पटना : कामधेनु TMT का निर्माण करने वाले कालिंदी वेंचर्स की फैक्ट्री पर अपराधियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग की है. पिछले कई महीनों से अपराधियों का कुख्यात गिरोह रंगदारी की मांग कर रहा है. नहीं देने पर आतंक पैदा करने को गोलीबारी की गई. मामला पटना के खुसरुपुर थाना क्षेत्र के नया टोला, खिरोधरपुर का है. इस वारदात में शातिर पप्पू गोप गिरोह को पुलिस शामिल मान रही है. गोलीबारी करने वाले कई अपराधियों की पहचान कर ली गई है. पुलिस का दावा है कि धर-पकड़ के लिए रेड जारी है.

घटना मंगलवार को शाम 7 बजे की ही है. इस बाबत खुसरुपुर थाना में कालिंदी वेंचर्स के सुपरवाइजर सतीश कुमार सिंह ने पुलिस में प्राथमिकी दर्ज कराई है. घटना के बाबत बताया गया है कि शाम को कामगारों को पैसा देने का काम चल रहा था, तभी अपराधी गिरोह ने धावा बोल दिया. कोई 6 अपराधी दो मोटरसाइकिल पर सवार होकर आये थे. आते ही गार्ड से उलझ गए.

firing-kamdhenu

गार्ड ने जब हो-हल्ला शुरू किया तो गेट की ओर काम करने वाले फैक्ट्री के दूसरे कामगार दौड़े. तभी यह चिल्लाते हुए अपराधियों ने फायरिंग शुरू कर दी कि फैक्ट्री के मालिक को पहले ही कहा गया था कि हमलोगों से मिल लें. नहीं मिलने पर गोली तो खानी ही होगी. फैक्ट्री का गेट मजबूत लोहे की चादर का लगा है. अपराधियों द्वारा चलाई गई गोलियों के निशान कई जगहों पर साफ़-साफ़ दिख रहे हैं. गोलीबारी की घटना के बाद फैक्ट्री के कामगार डरे हुए हैं.

फैक्ट्री में बड़ी संख्या में स्थानीय लोग भी काम करते हैं. इनलोगों ने गोलीबारी करने आये अपराधियों में से रोहित कुमार उर्फ़ बमबम यादव, गोपाल यादव और कारू उर्फ़ कल्लू यादव की पहचान कर ली है. दर्ज प्राथमिकी में इन सबों को नामजद किया गया है. प्राथमिकी में यह भी आरोप है कि फायरिंग करनेवाले अपराधियों के साथ कुछ स्थानीय एवं बाहरी लोगों की मिलीभगत है, जिनके कहने पर क्राइम को अंजाम दिया गया है.

यह भी पढ़ें –

50 की उम्र वाले शिक्षकों को जबरिया रिटायर कराएगी बिहार सरकार

BSSC पर्चा लीक मामले की नहीं होगी सीबीआई जांच

Social Buzz : 80 वाला फेल, 71 वाला पास – कैसा लगा लालू जी?

हैकर्स से लोहा लेगा बिहार, आईटी मंत्री सुशील मोदी ने लांच किया बिहार क्लाउड