शराबबंदी के बाद बिहार में बदला ट्रेंड, अब Cheers पर Girls का तड़का !

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार में शराबबंदी को एक साल से अधिक हो चुके हैं. बहुत कुछ बदला है. शराब के बड़े खेप रोज पकड़े जा रहे हैं. आरोपियों को जेल भी भेजा जा रहा है. आरोपियों पर जल्द से  जल्द दोष सिद्ध कर उसे सजा मिले इसके लिए पटना  में शराबियों के लिए स्पेशल फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट का गठन भी किया गया. बावजूद इसके शराब तस्करी तो रुकी नहीं उलट राजधानी में हाई प्रोफाइल लोगों में अब नया शौक घर कर गया है. 

राजधानी में हाई इनकम ग्रुप के लोगों ने एक नया ट्रेंड डेवलप कर लिया है. इसमें शादी व कॉर्पोरेट फंक्शन के मौके पर सेलेब्रिटीज को लेट नाईट पार्टी में मनोरंजन करने के लिए बुलाया जाने लगा है. जिसमे बॉलीवुड, टीवी सीरियल यहां तक कि विदेश से भी लड़कियां बुला कर उनसे परफॉर्म करवाया जा रहा है.

ताजा मामला पटना में ही सोमवार देर रात की है.  पुलिस को सोमवार की देर रात राजीवनगर थाना क्षेत्र के एनआरआई प्लाजा स्थिति एक बैंकवट हॉल में रेव पार्टी की सूचना मिली थी.  राजीवनगर और पाटलिपुत्रा, दोनों थाने की पुलिस जब मौके पर पहुंची तो उस बैंक्वेट हॉल में तेज आवाज में डीजे बज रहा था और चार युवतियों के साथ आठ युवक डांस कर रहे थे. हॉल में शराब और मटन परोसे जा रहे थे. पुलिस को देखते ही सभी अचंभित हो गए. सभी नशे में धुत्त थे.जांच करने पर सभी के शराब का सेवन करने की पुष्टि हुई है. पाटलिपुत्र थाना क्षेत्र के आम्रपाली बैंक्वेट हॉल में जन्मदिन की पार्टी में लड़कियों के आइटम डांस पर रईसजादे शराब छलका रहे थे. 

सवाल यह है कि यदि बिहार में शराबबंदी है तो फिर इस तरह की पार्टियों के आयोजन में शराब उपलब्ध कहाँ से किया जा रहा है. वहीं शराब निषेध के बाद से अचानक हाई प्रोफाइल लोगों द्वारा शादी में सेलेब्रिटीज के साथ कदम से कदम मिला कर जाम कैसे छलकाया जा रहा है.

इस मामले में बंदर बगीचा स्थित एक बड़ी ट्रेड इवेंट मैनेजमेंट कंपनी की प्रिय कंचन की माने तो सबसे ज्यादा एंटरटेनर बिहार में कोलकाता से मंगाए जाते हैं. ऐसा माना जाता है कि वहां से सिंगर, डांसर, एंकर, डीजे आदि सस्ते में बुक हो जाते हैं.
कंचन आगे कहती हैं कि हाई प्रोफाइल शादियां और कॉर्पोरेट इवेंट्स मनोरंजन के लिए नई-नई चीजों को सामने लाते हैं. इन पार्टियों में जो परफ़ॉर्मर होते हैं वो अपने हर परफॉरमेंस में कुछ नया कर लोगों का मनोरंजन करते रहते हैं. उनके स्टाइल, स्टेप्स और सॉंग सेलेक्सन  सब यूनिक होते हैं. ऐसे सेलेब्रिटीज को शादी और किसी प्रोडक्ट लांच के मौके पर स्पेसिअली बुलाया जाता है.   

कंचन बताती हैं कि क्लाइंट का जैसा बजट होता है उसी हिसाब से भोजपुरी, हिंदी टीवी सीरियल, बॉलीवुड एक्टर्स का बुकिंग किया जाता है.

पुराने जक्कनपुर में एक इवेंट फर्म चलने वाले रेशु अगरवाल बताते हैं कि यहां के हाई प्रोफाइल लोग ऐसे पार्टी फंक्शन में जम कर पैसे खर्च करते हैं. मिनिमम 2 लाख रुपये तक में आ सकने वाले सेलेब्रिटीज से लेकर काफी महंगे एंटरटेनर को हायर करते हैं.

रेशु की, माने तो लगभग 80 फीसदी परफ़ॉर्मर कोलकाता और दिल्ली से आते हैं. वहीं बांकी 20 फीसदी परफ़ॉर्मर विदेशों से मंगाए जाते हैं. रेशु कहती हैं कि ट्रेंड ऐसा शुरु हुआ जिसमें अब पार्टियों में वेटर और वेट्रेस भी मेट्रो सिटी का ही डिमांड किया जाने लगा है. और सभी होटल मैनेजमेंट ट्रेनी होते हैं.  
मुंबई बेस्ड इवेंट फर्म की जोनल मैनेजर स्वाति शर्मा कहती हैं कि सबसे ज्यादा परफ़ॉर्मर कोलकाता, दिल्ली और मुंबई से बुलाये जाते हैं. कॉर्पोरेट वाले जहां ऐसे परफ़ॉर्मर को 3 लाख तक देते हैं वहीं शादी में 1.5 लाख से 4 लाख तक खर्च किया जाता है.

डीजे का शौक सिर्फ पटना  तक सीमित नहीं रह गया है.  शर्मा बताती हैं कि अब यह बिहार के छोटे शहरों में ट्रेंड में आ चुका है.  हाल ही में सीतामढ़ी में मुंबई से से महिला डीजे को एक इवेंट में बुलाया गया था.

इन सब पार्टियों में ऐसे परफॉरमेंस के साथ- साथ शराब की उपलब्धता शराबबंदी कानून पर चोट कर रही हैं. इस मामले में एसएसपी मनु महाराज ने कहा कि शराब मामले में शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी

यह भी पढ़ें-  खुलासा : पहली बार वाइन पार्टी में पकड़ायीं लड़कियां, 8 गिरफ्तार