बड़ा हादसा : बैलून की गैस का सिलेंडर ब्लास्ट, दो की मौत, आठ घायल

खगड़िया : कहा जाता है कि होनी को कोई टाल नहीं सकता है.गुरूवार की शाम जिले भर में लोक आस्था के महापर्व को लेकर भक्तिमय माहौल के बीच कुछ ऐसी ही एक घटना घटित हुई जिसकी कल्पना करना मुश्किल है. छठ मेला के अवसर पर विभिन्न छठ घाटों पर बिक्री की जा रही गुब्बारे बच्चों के लिए कौतुहल का विषय बना हुआ था.

इसी बीच गुब्बारे में भरे जाने वाले गैस के सिलेंडर के फटने की घटना से देखते ही देखते घटना स्थल पर अफरातफरी का माहौल बन गया. प्राप्त सूचना के अनुसार बैलून व्यवसायी बमबम भगत छठ मेला में बैलून की बिक्री कर शहर वार्ड नंबर 5 के दान नगर स्थित अपने घर वापस लौटा. इस क्रम में ठेला पर से बैलून में भरे जाने वाले गैस सिलेंडर को उतारने के दौरान वो ब्लास्ट कर गया.

इस हादसे ने व्यवसायी सहित आस-पास खडे कई व्यक्तियों को अपनी चपेट में ले लिया. प्राप्त जानकारी के अनुसार हादसे में दाननगर निवासी महेन्द्र चौधरी का पुत्र अजीत कुमार एवं हरेराम चौधरी का भांजा गोलू कुमार की मौत हो गई.

वहीं इसी मोहल्ले के महेन्द्र भगत का 27 वर्षीय पुत्र बैलून बिक्रेता बमबम भगत, श्यामलाल नोनियां का 34 वर्षीय पुत्र रंजीत कुमार, बटेश्वर नोनियां का पुत्र 70 वर्षीय श्यामलाल नोनियां, कैलाश शर्मा का 26 वर्षीय पुत्र दीपक कुमार शर्मा, व्यास पंडित का 38 वर्षीय पुत्र चुनचुन कुमार, आनंदी नोनिया का पुत्र पांचू नोनियां,रंजीत नोनियां का 5 वर्षीय पुत्र सचिन कुमार एवं श्यामलाल महतो का 45 वर्षीय पुत्र भगत नोनियां गंभीर रूप से घायल हो गये.

सभी घायलों का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है. दूसरी तरफ घटना की खबर मिलते ही जिले के विभिन्न विभागों के कई विशेषज्ञ निजी चिकित्सक भी सदर अस्पताल पहुंचे और वो अस्पताल के चिकित्सकों को चिकित्सिय कार्य मे सहयोग करते देखे गये. सभी पीडित बेहद गरीब परिवार के बताये जाते हैं.

घटना के बाद पीडित के परिजनों का रो-ऱोकर बेहद बुरा हाल है. वहीं हादसे की खबर मिलते ही सदर अनुमंडल पदाधिकारी अमित कुमार पाण्डेय, पूर्व नगर सभापति सह जाप के जिलाध्यक्ष मनोहर कुमार यादव, युवा शक्ति के प्रदेश अध्यक्ष नागेन्द्र सिंह त्यागी के साथ-साथ कई स्थानीय जनप्रतिनिधि भी अस्पताल पहुंच चुके थे.