महिला पुलिस अधिकारी के इश्क में पड़ा हवलदार, अब जेल में बीतेगी छठ

आरा : इश्क जब परवान चढ़ता है तो सीनियर और जूनियर का लिहाज भी भूल जाता है. बात जब पुलिस महकमे की हो तो मामला और भी सीरियस हो जाता है. कुछ ऐसा ही नजारा आज देखने को मिला जिले की एक महिला पुलिस अधिकारी के कार्यालय में.

मामला सदर अस्पताल में कार्यरत एक हवलदार से जुड़ा है. आरोप है कि उसने उक्त महिला पुलिस अधिकारी के कार्यालय में आपत्तिजनक सामान रख दिया. साथ ही एक कथित प्रेम पत्र भी विभाग के ऑफिस में ले जा कर रख दिया. आखिर यही उसके जी का जंजाल बन गया.  विवाद इतना बढ़ा कि ना सिर्फ हवलदार की गिरफ्तारी हुई बल्कि उसे जेल जाना पड़ा और विभागीय कार्रवाई भी शुरू हो गई. घटना को लेकर पुलिस विभाग में काफी देर तक अफरा-तफरी का माहौल कायम था.

3 घंटे चला मान-मनौव्वल का सिलसिला

इस घटना की आग हवलदार के परिजनों तक पहुंच गई. पत्नी छठ व्रत किए हुए थी और बेटा से लेकर बेटी तक थाना में पहुंचे. मान-मनौव्वल चलता रहा. दोनों एसोसिएशन के लोग भी वहां आए. महिल अधिकारी से मिन्नते होती रही कि हवलदार को माफ किया जाए. मगर महिला पुलिस पदाधिकारी को अपमान सहन नहीं हुआ और उन्होंने FIR करा कर ही दम लिया.

मानसिक रुप से विक्षिप्त है हवलदार

अपने पति को जेल ना भेजने की मिन्नतें करने कार्यालय पहुंची हवलदार की पत्नी ने उसके इलाज का कागज भी दिखलाया. कहा कि ये मानसिक रूप से विक्षिप्त हैं और इनका इलाज भी चल रहा है. मगर कोई भी फायदा नहीं हुआ. अस्पताल में कार्यरत कर्मचारी भी बताते हैं कि उक्त हवलदार के बातचीत का लहजा भी कभी-कभी रोगी की तरह ही था. रात में चश्मा पहन कर घूमना, किसी के भी बारे में कुछ भी कह देना, यह सब उसकी दिनचर्या में शामिल हो गया था.