निकाय चुनाव : छिटपुट घटनाओं को छोड़ शांतिपूर्ण रहा मतदान, 64 फीसदी हुई वोटिंग

लाइव सिटीज टीम : बिहार के 35 जिलों में रविवार को नगर निकाय चुनाव छिटपुट घटनाओं को छोड़कर शांतिपूर्ण ढंग से समाप्त हुआ. चुनाव आयोग के मुताबिक 35 जिलों में औसतन 64 फीसदी मतदान हुआ.



भीषण गर्मी के बवाजूद भी लोगों ने जमकर वोटिंग की. 35 जिलों में कुल 5306 बूथ बनाए गये थे. निकाय चुनाव के पहले चरण में 12978 प्रत्याशियों कि किस्मत आज ईवीएम में कैद हो गई. मतगणना 23 मई को होगी.

निकाय चुनाव को लेकर लोगों में भारी उत्साह देखा गया. लोग सुबह से ही अपने वोट का इस्तेमाल करने के लिए बूथों पर कतारबद्ध खड़े दिखे. मतदान के दौरान कई जिलों से फायरिंग और झड़प भी हुई. नवगछिया में ईवीएम मशीन को तोड़ दिया गया तो जहानाबाद में मतदान के दौरान फायरिंग की गई. वहीं भागलपुर के वार्ड 46 के सैकड़ों मतदाता अपने नाम मतदाता सूची से गायब पाकर हंगामा पर उतर आए. भागलपुर में ही एक वार्ड में ‘पाकिस्तातन जिंदाबाद’ की नारेबाजी करते एक युवक को गिरफ्तार किया गया है.

दरअसल, वह पाकिस्तातन मुर्दाबाद का नारा लगा रहा था, इस बीच गलती से पाकिस्तान जिंदाबाद निकल गया था. खगड़िया में कुल 62 %, शिवहर  70%, सुपौल में  66.44%, शेखपुरा में 59%, गया में 54% वोटिंग हुई. वोटिंग के दौरान प्रशासन ने कड़े इंतजाम किये थे. बूथों पर सुरक्षा व्यवस्था को चुस्त किया गया था. लेकिन इन सब के बावजूज भी झड़प और फायरिंग की खबरें निकाय चुनाव के पहले मतदान की दिन छायी रही. सुपौल में ईवीएम में खराबी, तो नवादा में प्रत्याशी आपस में ही भिड़ गये. गया में प्रत्याशी को हिरासत में ले लिया गया तो वहीं सहरसा में बोगस वोटिंग को लेकर बवाल कर रहे लोगों को पर लाठी चार्ज करना पड़ा.

यह भी पढ़ें-election update : जहानाबाद में फायरिंग, छपरा व सहरसा में दे दना दन मुंगेर में 4 पोलिंग एजेंट गिरफ्तार

नवगछिया में ईवीएम को तोड़ा, बूथ पर बवाल, एसडीओ जख्मी