मौत की रफ्तार : ट्रक ने युवक को रौंदा, पब्लिक ने अफसरों पर फोड़ा ठिकरा

पटना (अमित जायसवाल) : नेशनल हाइवे पर हादसों का दौड़ थमने का नाम नहीं ले रहा है. चाहे एनएच-30 वो या फिर एनएच-31. इन दोनों ही नेशनल हाइवे का हाल काफी बुरा है. ट्रकों की बेलगाम स्‍पीड से चलना लगातार जारी है. यही वजह है कि आए दिन ट्रकों के हाई स्‍पीड से लोगों की जान जा रही है.

बाढ़ में एनएच-31 पर बेलगाम स्‍पीड वाले एक ट्रक ने साइकिल से जा रहे युवक को रौंद दिया. इसमें उसकी मौके पर ही मौत हो गई. हादसे के बाद चालक ट्रक लेकर मौके से फरार हो गया. हादसे के बाद मौके पर लोकल पब्लिक की भीड़ उमड़ पडी. लोगों ने रोड जाम कर दिया. हादसे के शिकार हुए युवक की फैमिली को मुआवजा देने की मांग पर लोकल पब्लिक अड़ गई. वो किसी की भी बात को नहीं मान रहे थे.

लोगों में इस बात का भी गुस्‍सा था कि रोड के किनारे काफी सारे गड्ढे हैं. इसकी वजह से आए दिन हादसे हो रहे हैं. लेकिन न तो अधिकारियों को इसकी परवाह है और न ही एनएच के मेंटेनेंस में लगे ठेकेदार को इसकी चिंता. रोड जाम की खबर सुन पहुंची पुलिस ने छानबीन की. इसमें युवक की पहचान बरियारपुर के रहनेवाले राम प्रताप राय के रूप में हुर्इ.

पुलिस टीम ने रोड जाम किए लोगों को काफी समझाया-बुझाया. तब जाकर लोगों का गुस्‍सा शांत हुआ. फिर डेड बॉडी को पोस्‍मार्टम के लिए भेज दिया गया. उसके बाद फैमिली वालो को डेड बॉडी सौंप दी गर्इ. उधर लोगों में अभी भी एक्सीडेंट को लेकर आक्रोश है. लोगों का कहना है कि बेलगाम रफ्तार से चलने वाले वाहनों पर प्रशासन अंकुश लगाने में विफल है.

इसे भी पढ़ें : दहल उठी गलियां जब दानापुर पहुँचीं एक साथ पांच लाशें  
पोलिटिकल कोहराम से दूर दिखने की कोशिश में लगे नीतीश, काम निपटा रहे हैं 
जदयू का हमला : बेचैन रहते हैं सुशील मोदी, विधवा विलाप में माहिर हैं बीजेपी नेता