कोहबर में सपने देख रही थी दुल्हन, अचानक बरसने लगीं लाठियां

लाइव सिटीज डेस्क : कहां दुल्हन शादी के बाद अपने पिया संग रहने के सुनहरे ख्वाबों में दुल्हन डूबी हुई थीं, तभी अचानक उन पर लाठियां बरसने लगीं. यह लाठियां बरसने वाले कोई गुंडा या मवाली नहीं थे, बल्कि सुरक्षा के जिम्मेवारी निभानेवाले खाकी वर्दी वाले थे. वे अचानक ‘गुंडे’ जैसे बन गये थे. यह कहना है कि दुल्हन जूली की. वही जूली जिनके हाथों में 24 घंटे पहले ही मेहंदी रची थी. सोमवार को गायघाट की पछियारी टोला की पीड़िता जूली सदमे में थी.

जूली मीडिया को बताती हैं कि शादी की उस रात मैं गम व खुशी में डूबी थी. गम था बाबूल का घर छोड़ने का तो खुशी थी पिया के घर जाने की. लेकिन इसी बीच पुलिस वाले आये और मेरे पति को पकड़ लिया और लगभग घसीटते हुए बाहर ले गये. मैं कुछ समझ नहीं पाई और बदहवास होकर पुलिस अधिकारी के पीछे-पीछे दौड़ने लगी. मेरे घरवाले भी घबरा गये. थाना पहुंची तो वहां परिजनों के साथ मुझे भी जानवरों की तरह पीटा गया. मेरी बहन को भी मारा गया.

इतना ही नहीं, घर आयी तो थोड़ी देर के बाद फिर से तीन-चार गाड़ियों में पुलिस वाले पहुंच गए और सबों को जानवर की तरह पीटा. बूढ़े, महिलाओं व बच्चों को भी नहीं छोड़ा. वे रोती हुई कहती हैं कि कहां इस समय वह ससुराल में होती, वहां आंगन में खुशियां बरसतीं, लेकिन पुलिस ने उसे व उसके भाई को जेल पहुंचा दिया. हाथों में लगी मेहंदी व उस पर पुलिस के डंडे के निशान उसकी पीड़ा को चीख चीख कर कहा रहा था. गंभीर रूप से घायल होने के कारण इस समय जूली सदर अस्पताल में भर्ती है.

उधर पुलिस पिटाई में बुरी तरह घायल दुल्हन जूली की बड़ी बहन रेखा को तो पुलिस को देख कर ही डर लगने लगा है. सदर अस्पताल में डंडे लेकर घूम रहे गार्ड को देखकर रेखा सहम जाती है कि कब उसकी लाठी फिर बरस जाये. रेखा की मानें तो दारोगा व पुलिस के जवान नशे में धुत थे और जानवर की तरह लोगों पर लाठी बरसा रहे थे. उसने यहां तक आरोप लगाया कि शादी समारोह में पहने जेवर तक पुलिस के लोगों ने उतरवा लिये.

हालांकि दूल्हा अभिनय कुमार ने कहा कि वह पुलिस बर्बरता से पीड़ित अपनी दुल्हन को कोर्ट से बरी कराकर सम्मानपूर्वक घर लाएगा. दुल्हन के साथ लिये सात फेरों के सात वचनों को निभायेगा. वह पुलिस के डर से ससुराल से फरार हो गया था, लेकिन उसे अब जिम्मेवारी का अहसास हो गया था. अभिनय ने पूछताछ में भी पुलिस को बताया है कि पुलिस के रौद्र रूप देख वह डर गया और विवाह समारोह से भाग गया. लेकिन अब वह अपनी पत्नी को जमानत करा कर जल्द ही घर ले आयेगा.

गौरतलब है कि दुल्हन जूली व उसकी बड़ी बहन रेखा की जानवर की तरह पिटाई करने के मामले में गायघाट थानेदार को एसएसपी ने सस्पेंड कर दिया. वहीं डीएसपी पूर्वी ने पूरे मामले की जांच रिपोर्ट एसएसपी को सौंपी दी है. रिपोर्ट में गायघाट थानाध्यक्ष की मौजूदगी में दुल्हन जूली व उसकी बड़ी बहन रेखा की पुलिस द्वारा बेरहमी से पिटाई की बात कही गयी है.

इसे भी पढ़ें : हैवान पुलिस : मंडप से दुल्‍हन को उठाया, राइफल के कुंदे से कूटा