टूट गई नालंदा-शेखपुरा की लाइफ लाइन, जीराइन नदी पर बना पुल ध्वस्त

नालंदा (रणजीत सिंह) : नालंदा-शेखपुरा का लाइफ लाइन कहा जाने वाला पुल अब टूट गया है. दरअसल एनएच-82 के जीराइन नदी पर बने पुल का आधा भाग ध्वस्त हो गया है. पुल के टूट जाने से आवागमन बाधित हो गया है. लोगों को खासा दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. बताया जा रहा है कि शुक्रवार की देर रात ये घटना हुई है.

जानकारी के मुताबिक शुक्रवार की देर संध्या तक सब कुछ ठीकठाक था लेकिन देर रात्रि में अचानक इस जर्जर पुल का आधा से भी अधिक हिस्सा टूट गया. इस वजह से इस रूट के सभी वाहनों का आवागमन ठप हो गया. इधर, जिला प्रशासन ने पुल के टूटे हिस्से की तुरन्त बैरिकेडिंग कराकर बड़े वाहनों के आवागमन पर रोक लगा दी है.

बताया जा रहा है कि इस पुल के टूट जाने से कई जीलों को जोड़ने वाला रास्ता अब बंद हो गया है. पुल के ध्वस्त होने से अब मुंगेर, जमुई, भागलपुर और मोकामा जाने में लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. घटना को देखते हुए एनएच-82 के सीधे रास्ते को डायवर्ट कर दिया गया है. फिलहाल इस रूट पर परिचालन बिलकुल ठप है.

बता दें कि इस पुल से होकर बिहारशरीफ भाया बरबीघा-शेखपुरा, बिहारशरीफ-बिंद भाया सकसोहरा, बिहारशरीफ -नोआवां भाया वारिसलीगंज, बिहारशरीफ-सरमेरा, बिहारशरीफ-ओंदा के लिए प्रतिदिन ढाई सौ से भी अधिक छोटी-बड़ी गाड़िया गुजरती थीं.

गौरतलब हो कि इस पल की हालत पहले से ही खराब थी. साथ ही मॉनसून की बारिश के बाद से इस पर गहरा असर पड़ा. अब इस हादसे के बाद से परिचालन पूरी तरह से ठप हो गया है. नालंदा-शेखपुरा का लाइफ लाइन कहा जाने वाला पुल अब ध्वस्त हो गया है.

यह भी पढ़ें-

जदयू बोला – तेजस्वी के चेहरे पर लगा करप्शन का दाग, अब कौन करेगा शादी…
NDA 1 का चलेगा फार्मूला, 35 मंत्रियों का होगा बिहार कैबिनेट 
नीतीश कैबिनेट में शामिल हो सकते हैं ये चेहरे, मंत्रिमंडल का गठन आज 5 बजे
केंद्र में मंत्री नहीं बनेंगे, अब संग्राम करेंगे शरद यादव
महबूबा की कड़ी चेतावनी : तो कश्मीर में कोई नहीं थामेगा तिरंगा