रहिए तैयार, अब अक्टूबर-नवंबर में फिर से होने जा रही है BSSC परीक्षा

लाइव सिटीज डेस्क/पटनाः BSSC इंटर लेवल प्रारंभिक परीक्षा में पेपर लीक कांड के बाद अब दोबारा से बिहार कर्मचारी चयन आयोग परीक्षा की तैयारी में जुट गया है. प्रारंभिक परीक्षा को नए सिरे से लेने की कवायद तेज हो गई है. यह परीक्षा आयोग की ओर से अक्टूबर व नवंबर में प्रस्तावित की गई है. परीक्षा 4 चरणों में आयोजित की जानी है. परीक्षा को लेकर किसी प्रकार की चूक न हो इसके लिए आयोग फूंक-फूंक कर कदम बढ़ा रहा है. पिछले सप्ताह गृह विशेष विभाग के प्रधान सचिव के साथ हुई बैठक के बाद इंटर स्तरीय प्रारंभिक परीक्षा की तैयारी ने जोर पकड़ लिया.

बता दें कि आयोग की इंटर स्तरीय संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा इस वर्ष 29 जनवरी से 26 फरवरी तक आयोजित होनी थी. पहले चरण से ही परीक्षा का प्रश्नपत्र लीक होने की बात सामने आने लगी थी. दूसरे चरण की परीक्षा पांच फरवरी को हुई थी. इसमें भी प्रश्नपत्र लीक हो गया था. तब इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई की. अब तक परीक्षा लीक मामले में बीएसएससी अध्यक्ष सुधीर कुमार, सचिव परमेश्वर राम सहित 32 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है.

बीएसएससी की इंटर स्तरीय प्रारंभिक परीक्षा साढ़े तेरह हजार सीटों के लिए आयोजित होनी है. साढ़े 18 लाख परीक्षार्थियों ने आवेदनपत्र भरे थे. इसमें पंचायत सेवक, राजस्व कर्मचारी, कार्यालय सहायक, एलडीसी, यूडीसी, स्टोनोग्राफर की सीटें हैं. स्टोनोग्राफर एएसआई की बहाली को लेकर सुप्रीम कोर्ट से भी निर्देश दिया गया है.

प्रारंभिक परीक्षा के साढ़े 18 लाख आवेदकों में से करीब 68 हजार सफल घोषित किए जाएंगे. उन्हें मुख्य परीक्षा में शामिल होने का मौका दिया जाएगा. अधिकारियों की मानें तो प्रारंभिक परीक्षा के तीन-चार महीने के अंदर मुख्य परीक्षा आयोजित की जा सकती है.

इस मामले में बीएसएससी के प्रभारी सचिव योगेंद्र राम ने बताया कि इंटर स्तरीय संयुक्त परीक्षा अक्टूबर-नवंबर में संभावित है. परीक्षा में किसी तरह की गड़बड़ी नहीं हो इसके लिए पूरी सख्ती के साथ तैयारी की जा रही है. परीक्षा केंद्र जिलाधिकारी की अनुशंसा पर ही तय किए जाएंगे.

यह भी पढ़ें-
BSSC : SIT ने परमेश्वर राम समेत 18 के खिलाफ दायर की चार्जशीट
Historical Achievements : कल्पित ने कहा- आप भी बन सकते हैं टॉपर, बस ये करें