मुजफ्फरपुर में वक्फ की जमीन को ले हिंसक झड़प, फायरिंग व पथराव में DSP समेत कई जख्मी

लाइव सिटीज डेस्कः मुजफ्फरपुर में वक्फ की जमीन को लेकर खूब बवाल हुआ. पुलिस-पब्लिक में हिंसक झड़प की खबर है. फायरिंग और जमकर रोड़ेबाजी भी हुई है. बताया जा रहा है कि इस हंगामे में खूब तोड़फोड़ हुई है. फायरिंग और पथराव में पुलिस अधिकारी समेत कई लोगों की जख्मी होनी की बात कही जा रही है.

इलाके में बढ़े तनाव को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है. मुजफ्फरपुर शहर का कमरा मुहल्ला पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है. इस मामले में पुलिस ने अब तक 20 लोगों को गिरफ्तार किया है.

बताया जा रहा है कि वर्षों से चल रहे वक्फ की जमीन के विवाद को लेकर कमरा मुहल्ले में खूूब तोड़फोड़ हुई. फायरिंग व पथराव में पुलिस अधिकारी समेत कई लोग घायल हो गए.

पुलिस सूत्रों की मानें तो तनाव की शुरूआत गुरुवार से ही हो गई थी. आज शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद मौलाना समर्थकों ने मोतवल्ली व कई लोगों के घरों में ताला लगा दिया. साथ ही तोड़फोड़ भी करने लगे. इसके बाद दूसरे पक्ष ने भी पथराव शुरू कर दिया. दोनों ओर से पथराव के साथ रुक-रुक कर फायरिंग शुरू हो गई.

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और कमान संभाल ली. पुलिस की मौजूदगी होते हुए भी लोग शांत नहीं हो रहे थे. दोनों ही ओर से लगातार फायरिंग और रोड़ेबाजी जारी रही. जब पुलिस ने बीच-बचाव करने की कोशिश की तो लोग और उग्र हो गए. पथराव में डीएसपी समेत कई पुलिसकर्मी घायल हुए हैं. उधर मौलाना को भी चोट लगी है.

बता दें कि पहले तो पुलिस समझा-बुझाकर लोगों को काबू में करने की कोशिश में लगी रही, लेकिन जब हालात काबू से बाहर हो गए तो पुलिस को मजबूरन लाठीचार्ज करना पड़ा. पुलिस ने खदेड़-खदेड़ कर उपद्रवियों की पिटाई की. मौलाना के घर में जमे दर्जनों लोगों को गिरफ्तार किया गया. घटना की सूचना पर डीएम व एसएसपी भी पहुंच गए हैं. फिलहाल हालात पर कुछ हद तक काबू पाया गया है. बड़ी संख्या में जवानों की तैनाती कर दी गई है.

यह भी पढ़ें-

वाघेला बोले- अभी मैं 77 पर नॉकआउट हूं, लोगों की खातिर नीलकंठ बनना भी मंजूर
नालंदा में हिंसक झड़प के बाद स्थिति नियंत्रण में, SP बोले पुलिस सख्ती से निबटेगी