छात्रों को प्रतियोगिता की पहली कदम से अवगत करायेगा गोल टैलेंट सर्च एग्जाम

add

लाइव सिटीज डेस्क : सुनहरे भविष्य के सपने संजोये बिहार के छात्रों के लिए प्रत्येक वर्ष अवसर प्रदान कर रहा गोल टैलेंट सर्च एग्जाम इस वर्ष पुनः कुछ नए प्रोग्राम के साथ छात्रों के बीच आ रहा है. आज गोल के द्वारा आयोजित किए प्रेस कांफ्रेंस में जी.टी.एस.ई 2017-2018 का प्रारूप जारी किया गया एवं साथ ही इससे संबंध्ति महत्त्वपूर्ण तिथि की जानकारी दी गई.

जी.टी.एस.ई के मकसद को बताते हुए गोल इन्स्टीच्यूट के मैनेजिंग डायरेक्टर एवं संस्थापक श्री विपीन सिंह ने कहा कि बिहार एवं अन्य राज्य के सुदूर गांवों, कस्बें एवं छोटे शहरों में रहने वाले वैसे छात्रा जो अच्छी प्रतिभा रखने के बावजूद वर्तमान प्रतियोगी परीक्षाओं की सही जानकारी के अभाव में सफलता पाने से वंचित रह जाते हैं एवं अच्छे स्कूल के वैसे छात्रा जो सही मार्गदर्शन के अभाव में सफलता के उन उचाइयों को छू नहीं पाते, जिन्हें वो अपने प्रतिभा के बल पर छू सकते थे. इस तरह के छात्रों के बीच प्रतियोगिता परीक्षाओं की सही जानकारी और उससे संबंधित सही मार्गदर्शन के उद्देश्य से गोल टैलेंट सर्च एग्जाम को संचालित किया जाता है.

सामाजिक जिम्मेवारियों के अंतर्गत गोल संस्थान के द्वारा चलाया जा रहा इस जागरूकता अभियान के द्वारा हमारी टीम छात्रों को प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए समय रहते जागरूक बनाने की सोच के साथ कई वर्षों से लगातार प्रयास कर रहा है और इसके द्वारा हजारों छात्रों को जागरूक बनाने का काम कर रहा है. हमें गर्व है कि अब तक बिहार के सैकड़ों छात्रों ने इसका लाभ उठाकर सफलता की बुलंदियों को छुआ है. इस वर्ष हमारे टीम का प्रयास होगा कि हम और भी अध्कि छात्रों के पास पहुंच बनाकर उन्हें भविष्य में सफलता पाने के लिए प्रेरित करें.

गोल टैलेंट सर्च परीक्षा के प्रारूप के विषय में गोल के असिस्टेंट डायरेक्टर रंजय सह बताते हैं कि इस वर्ष कक्षा 7, 8, 9, 10 में पढ़ रहे एवं सांइस में रूचि लेनेवाले सभी छात्रों के लिए आयोजित की जायेगी. उन्होंने बताया कि परीक्षा दो चरणों में ली जा रही है. इस वर्ष प्रथम चरण कि परीक्षा 7 जनवरी, 2018 को आयोजित की जायेगी जिसमें क्वालीपफाई करने वाले छात्रों के लिए 21 जनवरी, 2018 को मुख्य परीक्षा में चयनीत छात्रों को लैपटॉप एवं कई अन्य पुरस्कार दिए जाऐंगे एवं साथ ही इन्हें गोल इन्स्टीच्यूट के विभिन्न कोर्सों में स्कालरशिप भी दी जायेगी.

 

श्री सह ने बताया कि इस वर्ष गोल संस्थान द्वारा अच्छे शिक्षकों को सम्मानित एवं प्रोत्साहित करने हेतु ‘शिक्षक सम्मान’ प्रोग्राम आयोजित की जा रही है. जिसके अंतर्गत मुख्य परीक्षा में भाग लिए अधिकतर छात्रों के द्वारा नामांकित शिक्षकों को पुरस्कृत एवं सम्मानित किया जायगा. इस परीक्षा के महत्त्व के विषय में उन्होंने बताया कि इस परीक्षा में चयनीत मेधावी छात्रों को गोल इन्स्टीच्यूट के द्वारा पढ़ाई के साथ-साथ हॉस्टल एवं अन्य सभी सुविधाएं निःशुल्क मुहैया कराई जायेगी. परीक्षा के बाद गोल के द्वारा आयोजित सेमिनार में छात्रों को विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षा के जानकारियों से अवगत कराया जाता है एवं उसमें सफलता पाने को तकनीकी रूप से मार्गदर्शित किया जाता है.

 

गोल इन्स्टीच्यूट के बिज़नस हेड गौरव प्रकाश बताते हैं कि छात्रों को सुविधा के साथ परफॉर्म करने के लिए ऑनलाइन फॉर्म भरने की सुविधा दी गई है और छात्रा इससे सम्बंधित सारी जानकारी सही से प्राप्त कर सकें. इसके लिए www.gtse.in बेबसाइट को और बेहतर बनाते हुए ऑनलाइन यूजर्स के लिए भी easily accesible बनाया गया है. उन्होंने बताया कि इस वर्ष जी.टी.एस.ई बिहार, झारखंड एवं छत्तीसगढ़ के साथ-साथ वेस्ट बंगाल एवं उड़ीसा में भी आयोजित की जायगी. साथ ही उन्होंने बताया कि ऑनलाइन आप्शन के साथ-साथ छात्रों को ऑफलाइन फॉर्म भरने का आप्शन भी रखा गया है ताकि प्रत्येक छात्रा बिना किसी परेशानी के इसमें भाग लेकर अपने प्रतिभा को नई उचाई दे सकें. परीक्षा का पाठ्यक्रम; सिलेबसबद्ध वेबसाइट पर उपलब्ध करा दिया गया है जिसकी मदद से छात्रा अपनी तैयारी को आगे बढ़ा सकते हैं.

यह भी पढ़े – पटना के एग्जिक्यूटिव इंजीनियर से 10 लाख की ठगी, PHED का सचिव बन कर लगाया चूना
प्राइवेट कॉलेज से बीएड नहीं पड़ेगा महंगा, हाई कोर्ट ने दिया है यह आदेश

RING और EARRINGS की सबसे लेटेस्ट रेंज लीजिए चांद​ बिहारी ज्वैलर्स में, प्राइस 8000 से शुरू

PUJA का सबसे HOT OFFER, यहां कुछ भी खरीदें, मुफ्त में मिलेगा GOLD COIN

अभी फैशन में है Indo-Western लुक की जूलरी, नया कलेक्शन लाए हैं चांद बिहारी ज्वैलर्स

मौका है : AIIMS के पास 6 लाख में मिलेगा प्लॉट, घर बनाने को PM से 2.67 लाख मिलेगी ​सब्सिडी

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)