बेमौसम बारिश से बिगड़ी खड़गपुर झील, उफान पर मणि नदी

लाइव सिटीज डेस्क : बेमौसम की बारिश कभी-कभी स्थिति खराब करने के लिए काफी होती है. कुछ ऐसा ही बुधवार को मुंगेर के हवेली खड़गपुर में. दो दिनों की बारिश ने झील से लेकर नदी तक की हालत बिगाड़ दी है. खड़गपुर झील में क्षमता से काफी अधिक पानी भर गया है. पानी की निकासी के लिए गेट खोल दिया गया है. उधर मणि नदी में आये पानी के उफान को देखने के लिए लोग उमड़ पड़े. वहीं निचले इलाकों में रह रहे लोगों की थोड़ी परेशानी बढ़ गयी है.

उधर खड़गपुर एसडीओ संजीव कुमार ने लाइव सिटीज को बताया कि झील में लेवल से 11 फीट पानी ज्यादा हो गया था. इससे गेट पर प्रेशर बढ़ गया था. इसकी वजह से झील के सभी गेटों को 24 घंटे के लिए खोला गया है. स्थिति ठीक हो जाने के बाद गेटों को बंद कर दिया जायेगा.

एसडीओे संजीव कुमार ने बताया कि निचले इलाके तथा नदी के किनारे रहनेवाले लोगों से कहा गया है कि वे सुरक्षित इलाकों में चले जाएं. वहीं इसे लेकर माइक से भी लोगों को सूचना दी जा रही है. इतना ही नहीं, उन्होंने यह भी बताया कि लोगों को चेतावनी भी दी जा रही है कि ऐसे मौके पर नहाने के लिए नदी में नहीं कूदें, मछली नहीं मारें और सेल्फी नहीं लें.

जानकारी के अनुसार मॉनसून के दौरान जरूरत से ज्यादा बारिश होने की वजह से खड़गपुर झील पहले ही भरा हुआ था. वहीं क्षेत्र में मणि नदी समेत उससे जुड़ी छोटी-छोटी नहरों में भी पानी भरा हुआ था. लेकिन इसी बीच मंगलवार को जबर्दस्त मूसलधार बारिश से झील में झमता से 11 फीट अधिक पानी हो गया. इसके बाद झील के सभी गेट खोल दिये गये.

झील के गेटों को खोलते ही थोड़ी ही देर के बाद मणि नदी में पानी उफान पर आ गया. वह खतरे के निशान से काफी ऊपर बहने लगी. पुराने व नये पुल पर देखने के लिए लोगों को हुजूम जुट गया. बाजार के लोग खड़गपुर झील पर पहुंचने लगे. वहीं सिंहपुर, बड़ी दुर्गास्थान, गढ़ैया पुल के निकट पानी का जमाव हो गया. बड़ी दुर्गास्थान के निकट कच्ची सड़क पर पानी बहने की भी बात कही जा रही है.

उधर वार्ड नंबर सात के वार्ड कमिश्नर विक्रम कुमार ने बताया कि झील खोले जाने से मणि नदी में उफान आ गया है. हालांकि इससे कोई बड़ी हानि नहीं हुई है. निचले इलाकों में कुछ लोगों को परेशानी हुई है. इसके बारे में प्रशासनिक स्तर पर पता लगाया जा रहा है.

बता दें कि अमूमन मणि नदी में पानी नहीं के बराबर रहता है. हालांकि यह नदी सीधे हवेली खड़गपुर की ऐतिहासिक झील से जुड़ी है. पहाड़ी नालों से गिर कर झील में जमा पानी को छोड़ने पर मणि नदी में पानी आता है. लेकिन पिछले कई वर्षों से झील की स्थिति खराब है. सूखी पड़ी रहती है. यह संयोग ही है कि मंगलवार को ही कैबिनेट की मीटिंग में खड़गपुर झील की सफाई के लिए राशि आवंटित हुई है.

यह भी पढ़ें – 

करवाचौथ पर Lover को दें Princess Cut Diamond, चांद बिहारी ज्वैलर्स लाए हैं नया कलेक्शन
धनतेरस पर बेस्ट आॅफर दे रहे हैं हीरा-पन्ना ज्वैलर्स, Turkish जूलरी के साथ Gold Coin भी फ्री
स्मार्ट बनिए आ रही DIWALI मेंअपने Love Bird को दीजिए Diamond Jewelry
अभी फैशन में है Indo-Western लुक की जूलरीनया कलेक्शन लाए हैं चांद बिहारी ज्वैलर्स
PUJA का सबसे HOT OFFER, यहां कुछ भी खरीदेंमुफ्त में मिलेगा GOLD COIN
RING और EARRINGS की सबसे लेटेस्ट रेंज लीजिए चांद​ बिहारी ज्वैलर्स मेंप्राइस 8000 से शुरू
चांद बिहारी अग्रवाल : कभी बेचते थे पकौड़ेआज इनकी जूलरी पर है बिहार को भरोसा

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)