बालू माफियाओं पर चढ़ाई करने निकले थे DIG, थानेदार को ऑन स्पॉट किया सस्पेंड

पटनाः ऑपरेशन ‘माई गंगा’ के तहत सेंट्रल रेंज के डीआईजी राजेश कुमार निकले थे नदी किनारे. पटना के हालातों का जायजा लेने. अलग-अलग बोट से वो और उनकी टीम पटनासिटी की ओर निकली थी. लेकिन जो उन्हें देखने को मिला, उसके बाद उनके होश उड़ गए. कहीं अवैध रूप से जमकर बालू रखा हुआ मिला, तो कहीं गलत तरीके से ईंट भट्टा चल रहा था.

इसे देख कर डीआईजी राजेश कुमार काफी नाराज हुए. खांजेकला थाना एरिया के तहत आदर्श कॉलोनी में एक जगह ऐसी मिली जहां आधा किलोमीटर तक बालू स्टॉक कर अवैध रूप से रखा हुआ था. इसे देख डीआईजी ने पटनासिटी के एएसपी हरिमोहन शुक्ल को तलब किया.

मौके पर पहुंचे एएसपी को खूब सुनाया. खांजेकला थानेदार एन भाष्कर की पूरी लापरवाही सामने आई. अवैध रूप से चल रहे बालू के खेल को लेकर थानेदार की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं की गई. जिसे डीआईजी ने काफी गंभीरता से लिया. मौके पर ही उन्होंने ने थानेदार को सस्पेंड कर दिया. वहीं एएसपी को सख्त हिदायत दी और पूरे मामले की जांच के आदेश दे दिए गए. साथ ही जल्द से जल्द जांच की रिपोर्ट भी सौंपने को कहा गया है.

9 नाव समेत 2 ट्रैक्टर जब्त

जिस वक्त छापेमारी हुई गंगा में अवैध रूप से नाव के जरिये बालू की ढुलाई भी चल रही थी. इस पर डीआईजी की नजर पड़ी. उनके निर्देश पर 9 नाव, ट्रैक्टर का 3 डाला और 2 ट्रैक्टर जब्त किए गए. जब डीआईजी बोट से निकले थे तो पटना सिटी जाने के दौरान ऐसे कई नालों पर उनकी नजर पड़ी, जो अवैध थे और उनका गंदा पानी गंगा नदी में गिर रहा था.  इसे भी काफी गंभीरता से लिया गया. इस मामले में डीआईजी जल्द ही पटना नगर निगम को लिखेंगे और कार्रवाई करने को कहेंगे.

यह भी पढ़ें-

बड़ी खबर : बालू माफिया के खिलाफ लड़ाई को तैयार नहीं हुए IAS के के पाठक
बालू माफियाओं पर मनु महाराज का एक्शन, राजद विधायक भाई वीरेंद्र का भी आ रहा नाम !