सोचा था मैट्रिक कर लेगी तो कर देंगे शादी, हालात ने बना दिया बेटी का हत्यारा

मोतिहारी (पूर्वी चंपारण) : दिल में बेटी की शादी की हसरत थी. इंतजार था कि वो मैट्रिक पास कर जाए. अच्छे से. तो उसको विदा कर दूंगा. इन्हीं सपनों में वो अपनी बेटी की पढ़ाई में खुद भी जुटा रहता था. लेकिन 22 जून का दिन उसके लिए बहुत भारी गुजरा. जिसकी उम्मीद नहीं की थी. वही हुआ. बेटी मैट्रिक परीक्षा में फेल कर गई. पिता को ये बात खल गई. गुस्सा इतना बढ़ा कि पिता ने अपनी ही बेटी को पीट-पीटकर मार डाला.

मामला है कल्याणपुर थाने का जहां मिरचइया गांव में पिता ने मैट्रिक में फेल होने पर बेरहमी से पीट कर बेटी की हत्या कर दी. घटना को अात्महत्या का रूप देने के लिए शव को छत में लगी कड़ी से लटका दिया. लेकिन, पत्नी ने ही पुलिस में उसके खिलाफ मामला दर्ज करा दिया. आरोपित पिता दो बच्चों को लेकर फरार हो गया है. मिरचइया गांव के मनोज पांडेय की दो बेटियों अंजली (15) व अंशु (14) ने मैट्रिक की परीक्षा दी थी.

बुधवार को रिजल्ट निकला, तो मनोज बेटियों का रोल नंबर लेकर पास के बाजार में गया था, जहां से शाम को लौटा, गुस्से में था़. बड़ी बेटी अंजलि को गणित में कम नंबर मिले थे. जिसकी वजह से वह फेल हो गयी थी. जबकि छोटी बेटी अंशु सेकेंड डिवीजन से पास हुई थी. अंजलि की मां रूबी देवी ने जो रिपोर्ट दर्ज करायी है, उसके मुताबिक रिजल्ट देख कर लौटे मनोज ने अंजलि पर गुस्सा किया था. जिसकी वजह से वह डरी-सहमी थी. इसके बाद वह सोने चली गयी थी. कमरे में ही मनोज ने अंजलि की बेरहमी से पिटाई की. जिससे उसकी हालत बिगड़ गयी और मौत हो गयी.

यह भी पढ़ें-
नीरज सिंह हत्याकांड : अमन सिंह के बाद अब 25 हजार का इनामी शूटर सोनू गिरफ्तार