मणिपुर सीएम की अपहृत रिश्तेदार बिहार में मिली, हाई प्रोफाइल मामले की जांच में जुटी पुलिस

लाइव सिटीज डेस्कः मणिपुर के सीएम एन बीरेन सिंह की नजदीकी रिश्तेदार की कथित अपहृत बेटी मुजफ्फरपुर के साहेबगंज थाना क्षेत्र से मिली है. युवती की मां मणिपुर के सीएम की नजदीकी रिश्तेदार बताई जा रही है. उसने अपने प्रेमी से कोर्ट मैरिज कर लिया है.

बाताय जा रहा है कि मणिपुर के चंदेल जिले के मंत्रीपंथा गांव की 20 वर्षीय इंजीनियरिंग छात्रा थामलिंग के अपहरण का मामला वहां दर्ज है. घटना गत पखवारे की बताई जा रही है. अपहरण का आरोप साहेबगंज थाना क्षेत्र के बसंतपुर गांव निवासी मो. मुमताज के पुत्र शाहरूख खां पर है. हालांकि, दोनों ने कोर्ट मैरिज कर ली है.

जानकारी के मुताबिक दोनों चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ से संबद्ध यूनाइटेड कॉलेज में साथ पढ़ते थे. वहां से दोनों भागकर 24 जून को मुजफ्फरपुर पहुंचे. शाहरूख ने इसकी सूचना पिता को दी. इसके बाद पिता मुजफ्फरपुर कोर्ट पहुंचे और उनकी कोर्ट मैरिज कराई. वे दोनों को बसंतपुर (चैनपुर) गांव घर ले आए. ईद के अगले दिन 28 जून को दोनों सिकंदराबाद चले गए. कुछ दिन बाद वहां से वापस आ गए.

मामला हाई प्रोफाइल होने के चलते पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया. ऊपर से नीचे तक के अधिकारी मामले की जांच में लग गए. मुजफ्फरपुर के एसएसपी विवेक कुमार ने बताया कि मणिपुर की टीम यहां पहुंच रही है. मुजफ्फरपुर आने के बाद मणिपुर की टीम युवती को कोर्ट में प्रस्तुत कर ट्रांजिट रिमांड पर ले जाएगी.

युवती को हिंदी भाषा का ज्ञान नहीं है. इससे पुलिसिया कार्रवाई में परेशानी हो रही है. युवती को महिला पुलिस की अभिरक्षा में रखा गया है. पूछताछ में वह मणिपुर के सीएम का रिश्तेदार बता रही है. पुलिस सूत्रों के अनुसार, थामलिंग पहले से शादीशुदा है. उसका पति आर्मी में पोस्टेड है. शाहरुख से उसकी दूसरी शादी हुई है. मामला पूरी तरह प्रेम-प्रसंग का है. थामलिंग ने शाहरुख को निर्दोष बताया है, जिसके आस आधार पर पुलिस ने उसे छोड़ दिया है.

यह भी पढ़ें-

रामविलास पासवान का जन्मदिन आज, 71 के हुए, सोशल मीडिया पर बधाइयों का तांता
भरे बाजार पीटे गए सीओ साहब, महिला ने खूब किया लप्पड़-थप्पड़, बरसाए लात-घूंसे